राष्ट्रीय

Blog single photo

सीबीआई ने कर्नाटक के भाजपा नेता योगीश गौड़ा हत्या मामले में दाखिल की चार्जशीट

22/05/2020

- सीबीआई का खुलासा : राजनीतिक कारणों से की गई हत्या, आरोप-पत्र में आठ आरोपित नामजद

जितेन्द्र बच्चन

नई दिल्ली, 22 मई (हि.स.) । केन्द्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने कर्नाटक के धारवाड़ जिला पंचायत के सदस्य एवं भाजपा नेता योगीश गौड़ा की हत्या के मामले में आठ आरोपितों के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल कर दिया है। सीबीआई ने चार्जशीट में इस बात का खुलासा किया है कि गौड़ा की हत्या राजनीतिक कारणों से की गयी थी।
कर्नाटक के धारवाड़ के भाजपा नेता योगीश गौड़ा की 15 जून, 2016 को धारवाड़ के ही सप्तपुरा में एक जिम के सामने हत्या कर दी गयी थी। उस समय धारवाड़ की उप नगरीय पुलिस स्टेशन ने यह मामला दर्ज कर केस की विवेचना क्षेत्राधिकारी को सौंप दी थी। क्षेत्राधिकारी ने मामले की जांच पूरी कर 09 सितम्बर, 2016 को अदालत में चार्जशीट पेश की। 
पुलिस ने गौड़ा की हत्या में छह लोगों को आरोपित बताया था। लेकिन पुलिस की इस जांच से भाजपा और स्थानीय लोग संतुष्ट नहीं थे। उन्होंने सीबीआई से जांच कराने की मांग की। अंतत: घटना के करीब तीन साल बाद कर्नाटक की भाजपा सरकार के अनुरोध पर 24 सितम्बर, 2019 को सीबीआई ने इस मामले की जांच शुरू की। अब इसी मामले में सीबीआई ने धारवाड़ की जेएमएफसी कोर्ट में आठ आरोपितों के खिलाफ आरोप पत्र दायर किया है। आठों आरोपितों के नाम हैं- संतोष सवदत्ती, दिनेश एम, सुनील केएस, हर्षित, अश्वथ एस, नजीर अहमद, शाहनवाज और नूतन के.। इनमें से एक को छोड़कर बाकी के सभी आरोपी न्यायिक हिरासत में हैं।

सीबीआई प्रवक्ता आर.के. गौड़ ने बताया कि आरोपित धारवाड़, रामनगर, मंड्या, कोडागु और बैंगलोर सिटी के निवासी हैं। ये लोग जून, 2016 में दो बार धारवाड़ आये थे। बाद में इन लोगों ने कुछ अन्य लोगों के सहयोग से भाजपा नेता योगीश गौड़ा की हत्या की साजिश रची। उसके बाद अपराध को अंजाम देकर सभी फरार हो गए। उन्होंने बताया कि हत्या के पीछे राजनीतिक कारण थे और राजनीतिक रंजिश के चलते ही इस घटना को अंजाम दिया गया। इस समय एक आरोपित को छोड़कर बाकी के सभी आरोपित न्यायिक हिरासत में हैं।

हिन्दुस्थान समाचार


 
Top