व्यापार

Blog single photo

रिकॉर्ड खाद्यान्‍न उत्‍पादन की उम्‍मीद, 29 करोड़ 56 लाख टन उत्पादन का अनुमान

15/05/2020

प्रजेश शंकर 

नई दिल्‍ली, 15 मई (हि.स.)। कोविड-19 की महामारी और देशव्‍यापी लॉकडाउन के बीच देश में कृषि उत्पादन का लगातार चौथे साल नए रिकार्ड स्तर पर पहुंचने का अनुमान है। बेहतर मानसून की अच्छी वर्षा से फसल वर्ष 2019-20 में 29 करोड़ 56 लाख 70 हजार टन रिकार्ड खाद्यान्न उत्पादन का अनुमान जताया है। बता दें कि ये पिछले फसल वर्ष के 28.52 करोड़ टन से 104.6 लाख टन ज्‍यादा है। कृषि  मंत्रालय ने शुक्रवार को जारी ताजा आंकड़ों में ये जानकारी दी है।

मंत्रालय की ओर से जारी अनुमान के अनुसार चावल का उत्पादन इस फसल वर्ष (2019-20) में 11.79 करोड़ टन रहने का अनुमान है, जो कि पिछले वर्ष 11.64 करोड़ टन था। वहीं, गेहूं का उत्पादन इस वर्ष लगभग 10.72 करोड़ टन रहने का अनुमान है, जो कि पिछले वर्ष 10.36 करोड़ टन था। दालों का उत्पादन 230.10 लाख टन होने का अनुमान है जो कि पिछले 5 साल के औसत 220.8 लाख टन से ज्यादा है। 

हालांकि, दालों का उत्पादन वर्ष 2017-18 के रिकॉर्ड उत्पादन 254.2 लाख टन से कम है। दालों में अरहर का उत्पादन इस साल 37.5 लाख टन और चने का 109 लाख टन होने का अनुमान है। उड़द का उत्पादन 23.3 लाख टन, मसूर का 14.4 लाख टन और मूंग का 23.4 लाख टन होने का अनुमान है।

इसके अलावा मोटे अनाजों का भी रिकॉर्ड उत्पादन का अनुमान है, जिसमें तिलहन का पिछले साल से ज्यादा है। मोटे अनाजों का उत्पादन इस वर्ष भी रिकॉर्ड 475.4 लाख टन होने का अनुमान है, जो कि पिछले वर्ष के उत्पादन 430.6 लाख टन से 44.8 लाख टन ज्यादा है। मोटे अनाज में मक्का का उत्पादन रिकॉर्ड 289.8 लाख टन होने का अनुमान है। 

इतना ही नहीं तिलहन फसलों का उत्पादन इस वर्ष 335.01 लाख टन होने का अनुमान है, जो कि पिछले वर्ष के मुकाबले 19.8 लाख टन अधिक है। तिलहन   में सोयाबीन का उत्पादन 122.42 लाख टन, जबकि सरसों का उत्पादन 87.03 लाख टन और मूंगफली का 93.5 लाख टन होने का अनुमान है।

गन्ने के उत्पादन में गिरावट की आशंका

गन्ने का उत्पादन 2019-20 में 35.81 करोड़ टन होने का अनुमान है, जो गत  वर्ष के 40.54 करोड़ टन से कम है। वहीं, कपास का उत्पादन इस वर्ष 360.5 लाख गांठ (एक गांठ 170 किलोग्राम) होने का अनुमान है जो कि पिछले वर्ष से 80.1 लाख गांठ अधिक है। जूट का उत्पादन इस वर्ष 99.2 लाख गांठ (एक गांठ 180 किलोग्राम) होने का अनुमान है।

उल्‍लेखनीय है कि कृषि मंत्रालय खाद्यान्न उत्पादन के 4 अग्रिम अनुमान जारी करता है और उसके बाद अंतिम अनुमान लगाता है। सही मायने में 4थे अग्रिम अनुमानों को अंतिम अनुमानों के समान ही माना जाता है।

हिन्‍दुस्‍थान समाचार


 
Top