अपराध

Blog single photo

भाजपा सांसद हंस राज हंस के कार्यालय के बाहर गोली चलाने वाला गिरफ्तार

04/11/2019

अश्वनी शर्मा
नई दिल्ली, 04 नवम्बर (हि.स.)। रोहिणी नॉर्थ इलाके में सोमवार शाम श्रद्धानंद कॉलेज के पहलवानी कोच ने सांसद हंसराज हंस के कार्यालय के बाहर गोली चलाकर सनसनी फैला दी। घटना को अंजाम देकर आरोपित कार से फरार6 हो गया। इस गोलीबारी में कार्यालय के मेन गेट पर लगा शीशा चकनाचूर हो गया। हालांकि इसमें कोई हताहत नहीं हुआ है। घटना की जानकारी मिलने पर पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया। पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज और वायरल वीडियो के जरिए आरोपित की पहचान कर उसे गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने उसके पास से लाइसेंसी पिस्टल और कार बरामद कर ली है। पुलिस के मुताबिक आरोपित फिलहाल नशे में है। उससे गोली चलाने के मकसद के बारे में पूछताछ की जा रही है।
आरोपित की पहचान रामेश्वर पहलवान (51) के रूप में हुई है। वह बवाना का रहने वाला है। पुलिस ने आरोपित के कब्जे से वारदात में इस्तेमाल कार, पिस्टल और कारतूस जब्त कर लिया है। पुलिस आरोपित से पूछताछ करने पर पता लगाने की कोशिश कर रही है कि उसने वारदात को क्यों अंजाम दिया था। वारदात का वीडियो एक युवक ने अपने मोबाइल फोन में कैद कर लिया था, जिसको कब्जे में लेकर पुलिस को आरोपित को पकड़ने में सबसे ज्यादा सहायता मिली।
जानकारी के मुताबिक भाजपा सांसद हंस राज हंस का सी-9/13 सेक्टर-7 रोहिणी में ऑफिस है। जहां पर पीसीआर को सोमवार शाम पांच बजकर 44 मिनट पर गोली चलने की सूचना मिली। पुलिस जब मौके पर पहुंची तो उसे ऑफिस का शीशा टूटा हुआ  मिला। पुलिस को ऑफिस के आसपास ही कारतूस के तीन खोखे बरामद हुए। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि ऑफिस के सामने खड़े एक युवक ने वारदात की अपने मोबाइल फोन से वीडियो बनाई थी, जिसको कब्जे में ले लिया। रोहिणी नॉर्थ में मामला दर्ज कर किया गया। आरोपी को पकड़ने के लिए थाना पुलिस समेत स्पेशल स्टॉफ और अपराध शाखा को जिम्मा सौंपा गया।
पुलिस ने मोबाइल वीडियो और आसपास लगे करीब सात सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाली, जिसमें आरोपित की ग्रीस ब्लैक रंग की कार दिखाई दी। जिसकी नंबर प्लेट की जांच करने पर कार बवाना इलाके में रहने वाले रामेश्वर पहलवान की पता लगी। पुलिस ने वारदात की जगह से बवाना की तरफ जाने वाले रास्ते पर नाकाबंदी की। सभी पीसीआर वैन को कार का नंबर भेजा गया। वारदात के करीब ढाई घंटे बाद आरोपित रामेश्वर पहलवान को गिरफ्तार कर लिया गया। जब वह अपने घर की तरफ कार से जा रहा था। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि रामेश्वर श्रद्धानंद कॉलेज में पिछले 23 साल से रेसलिंग का कोच है। वारदात के वक्त उसने शराब पी रखी थी। उसने गोली क्यों चलाई। इस बारे में आरोपित से पूछताछ की जा रही है।
जिला पुलिस उपायुक्त एसडी मिश्रा ने बताया कि वारदात के वक्त रामेश्वर पहलवान अपनी ग्रीस ब्लैक कार से ऑफिस के पास आया, जिसने केसरी कुर्ता और सफेद पजामा व चप्पल पहन रखी थी। उसने कार से बाहर निकलते ही पहली गोली ऑफिस पर चलाई, जिससे ऑफिस का शीशा टूट गया। आरोपित ने दूसरी और तीसरी गोली हवा में चलाई।
गोली चलाने के बाद आरोपित कार में बैठकर फरार हो गया। पुलिस ने आरोपित को पकड़ने के लिए वारदात के आसपास क्लीनिक, फ्लैट और बिल्डिंग में लगे चार से पांच सीसीटीवी कैमरों की फुटेज भी कब्जे में ली थी, जिसमें आरोपित आता जाता दिखाई दे रहा है। भाजपा अधिकारियों ने बताया कि पांच बजे हंसराज हंस शाम पांच बजे पब्लिक मीटिंग लिया करते है। सोमवार शाम पांच बजे भी मीटिंग थी, जो किसी कारण वश कैंसिल कर दी गई थी। पुलिस सूत्रों का कहना है कि जिस तरह से आरोपित ने वारदात को अंजाम दिया है। उसका मकसद किसी को मारना नहीं था। उससे यह भी लगता है कि आरोपित किसी बात को लेकर मानसिक रूप से परेशान रहा होगा, जिसने अपनी भड़ास निकालने के लिए बंद पड़े ऑफिस पर गोली चलाई थी। भाजपा के कई जिला अधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर पुलिस से मामले की जानकारी ली। उन्होंने बताया कि लोकसभा चुनाव में  बिल्डिंग को किराये पर लिया गया था। चुनाव के दौरान इसी पांच मंजिला बिल्डिंग में चुनाव की रूपरेखा तैयार की जाती थी। मंत्री हंसराज हंस भी यही पर रहा करते थे। ग्राउंड फ्लोर पर तभी से ऑफिस बना रखा है। यहां पर शाम पांच बजे पब्लिक मीटिंग कर उनकी परेशानियों को हल करने की कोशिश की जाती है।

हिन्दुस्थान समाचार


 
Top