अपराध

Blog single photo

कानपुर में वॉट्सएप ग्रुप सेक्स रैकेट का भंडाफोड़, छह गिरफ्तार

12/01/2020

पूरी रकम लेने के बाद ग्राहकों की जाती थी युवतियों की सप्लाई 

मोहित वर्मा 
कानपुर, 12 जनवरी (हि.स.)। बर्रा पुलिस ने एक ऐसे सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ किया है, जो वॉट्सएप ग्रुप बनाकर ग्राहकों को युवतियों की सप्लाई करता था। पुलिस ने दो युवतियों सहित छह लोगों को पकड़ा है। गिरफ्तार युवक समाज में रौब झाड़ने के लिए खुद को पत्रकार बताते थे। 

पुलिस अधीक्षक दक्षिण अपर्णा गुप्ता ने रविवार को बताया कि बर्रा पुलिस को मेहरबान सिंह पुरवा के एक मकान से सेक्स रैकेट चलने की जानकारी मिल रही थी। इस पर पुलिस ने बर्रा पुलिस ने मकान में छापेमारी करके मौके से दो युवतियों सहित चार तथाकथित पत्रकारों को आपत्तिजनक स्थिति में पकड़ा। पुलिस ने जब पकड़े गए लोगों से पूछताछ और इनके मोबाइल फोन की जांच की तो एक वाट्सएप ग्रुप मिला। एसपी साउथ ने बताया कि इस ग्रुप पर खूबसूरत युवतियों की फोटो शेयर की जाती थीं। ग्रुप से जुड़ा सदस्य जब किसी कॉल गर्ल को भेजने की बात कहता तो फिर उससे रकम को लेकर बात की जाती थी। पूरी रकम लेने के बाद ही युवती को ग्राहक के पास भेजा जाता था। इस रकम में कॉल गर्ल के आने से लेकर उसकी वापसी का खर्च भी शामिल था। डील के हिसाब से रकम ढाई हजार से नौ हजार तक वसूली जाती थी।

न्यूज पोर्टल के पत्रकार व स्टेट हेड बताकर गांठते थे रौब
पुलिस ने सेक्स रैकेट चलाने वालों में खुद को न्यूज पोर्टल का स्टेट हेड बताने वाले शख्स दादा नगर निवासी मुन्ना सिंह को भी पकड़ा। इसके अलावा खुद को पत्रकार बताने वाले बखतौरी पुरवा नौबस्ता निवासी मंगल प्रसाद पासवान, बर्रा-8 निवासी विमलेश तिवारी, नीरेन्द्र सिंह नौबस्ता को भी गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तार की गईं दो युवतियां दो दिन पूर्व आगरा से आयी थीं। मंगल प्रसाद मेहरबान सिंह पुरवा में किराए पर मकान लेकर रैकेट का संचालन कर रहा था। मौके से आपत्तिजनक सामग्री, दो पैन कार्ड, तीन एटीएम, न्यूज पोर्टल की पांच आईडी कार्ड व आठ मोबाइल बरामद किए गए हैं।

हिन्दुस्थान समाचार


 
Top