क्षेत्रीय

Blog single photo

राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाने का पाप करने जा रही भाजपा : संजय राऊत.

07/11/2019

राज बहादुर यादव
मुंबई, 07 नवम्बर (हि.स.)। शिवसेना प्रवक्ता संजय राऊत ने कहा कि भाजपा राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाने का पाप करने जा रही है। राज्य की जनता ने भाजपा-नीत गठबंधन को सरकार गठन करने का जनादेश दिया है, इसलिए उसको तय फार्मूले के अनुसार सरकार का गठन करना चाहिए। शिवसेना भाजपा के साथ गठबंधन तोड़ने का पाप नहीं करेगी, लेकिन भाजपा यदि तय फार्मूले के तहत सरकार का गठन नहीं करेगी तो शिवसेना के समक्ष सभी विकल्प खुले हैं। 

राऊत ने गुरुवार को पत्रकारों को बताया कि लोकसभा चुनाव से पहले भाजपा शिवसेना के बीच सत्ता में समान भागीदारी का फार्मूला तय हुआ था। शिवसेना उससे ज्यादा नहीं मांग रही है, लेकिन भाजपा सभी दलों के विधायकों को तोड़ने का प्रयास कर रही है। बहुमत जुटाने के लिए भाजपा सरकारी मशीनरी का भी प्रयोग कर रही है। इसके बावजूद भाजपा सफल नहीं हुई है। यदि भाजपा सरकार गठन करने की स्थिति में नहीं है तो उसे सीधे कह देना चाहिए कि हम सरकार गठित नहीं कर सकते। इसके बाद सरकार बनाने के लिए शिवसेना दूसरे सबसे बड़े दल के रूप में अपनी भूमिका का निर्वहन करेगी।

राऊत ने कहा कि भाजपा ने राष्ट्रपति शासन लगाने का प्रयास तेज कर दिया है। भाजपा का यह प्रयास जनता व उसके द्वारा दिए गए जनादेश का अपमान है। भाजपा सबसे बड़ी पार्टी है। भाजपा को आज राज्यपाल से या तो सरकार बनाने का दावा करना चाहिए था, या फिर कह देना चाहिए था कि वह सरकार का गठन नहीं कर सकती है। भाजपा ने चुनी हुई सरकार बनाने की बजाय अलग खेल शुरू कर दिया है। राज्य की जनता सब कुछ देख व समझ रही है। समय आने पर जवाब देगी।
उल्लेखनीय है कि नौ नवम्बर को राज्य सरकार का पांच वर्ष का कार्यकाल पूरा हो रहा है। उससे पहले राज्य में नई सरकार का गठन हो जाना चाहिए। सरकार गठन नहीं होने की स्थिति में राज्यपाल भगतसिंह कोश्यारी राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाने की केंद्र सरकार से सिफारिश कर सकते हैं।
 
हिन्दुस्थान समाचार


 
Top