राष्ट्रीय

Blog single photo

भाजपा के बंद का रहा व्यापक असर, रेल, सड़क व जल यातायात रहे प्रभावित

10/06/2019

ओम प्रकाश
कोलकाता, 10 जून (हि.स.) । उत्तर 24 परगना के बसीरहाट में पांच कार्यकर्ताओं की हत्या के खिलाफ भाजपा द्वारा सोमवार को आहूत 12 घंटे के बंद का व्यापक असर देखा गया। बसीरहाट इलाके में अधिकतर दुकानें व अन्य व्यावसायिक प्रतिष्ठान सुबह से ही बंद रहे। सड़क, रेल और जल यातायात भी प्रभावित रहे। सड़कों पर वाहन यदा-कदा ही नजर आए। बस स्टैंड पर गाड़ियां दिनभर खड़ी रहीं। 
बसीरहाट बंद के अलावा पार्टी ने राज्यभर में सोमवार का दिन ब्लैक-डे के रूप में मनाया। भाजपा ने बंद को पूरी तरह सफल बताया है।
बंद को सफल बनाने के लिए भाजपा कार्यकर्ताओं ने सड़कों पर उतर कर विरोध-प्रदर्शन किया। जहां भी दुकानें खुली दिखीं, उन्हें बंद करवाया। सड़कों पर टायर जलाकर यातायात बाधित किया और रेल लाइन पर बड़ी संख्या में एकत्रित होकर नारेबाजी करते हुए ट्रेन सेवा भी रोक दी। मीनाखां, बामनपुर और बासंती हाईवे समेत पूरे क्षेत्र में पार्टी कार्यकर्ताओं और समर्थकों ने सड़कों पर उतरकर बंद को प्रभावी बनाने की कोशिश की। हुगली नदी में नावों का परिचालन लगभग ठप रहा। भाजपा नेता मुकुल रॉय ने प्रदेश मुख्यालय में शाम को पत्रकारों से बातचीत में बंद को पूरी तरह सफल बताया। 
कार्यकर्ताओं की हत्या के विरोध में सोमवार का दिन पार्टी ने राज्यभर में ब्लैक-डे के रूप में मनाया। राजधानी कोलकाता के साथ-साथ हावड़ा, हुगली, उत्तर 24 परगना, दक्षिण 24 परगना, पूर्व मेदिनीपुर, पश्चिम मेदिनीपुर, खड़गपुर, केसियाड़ी, पुरुलिया, सिलीगुड़ी के विस्तृत इलाके में भाजपा कार्यकर्ताओं ने धिक्कार रैलियां निकालीं। रैलियों में शामिल कार्यकर्ता अपने हाथ व मुंह पर काली पट्टी बांधकर प्रदर्शन कर रहे थे। बशीरहाट में निकाली गई धिक्कार रैली का नेतृत्व प्रदेश महासचिव सायंतन बसु ने किया, जबकि कोलकाता में हुगली की सांसद लॉकेट चटर्जी और राजू बनर्जी के नेतृत्व में रैली निकाली गई। 
महानगर के बेहला इलाके में भाजपा की रैली की वजह से करीब दो घंटे तक सड़क यातायात बाधित रहा। सियालदह बनगांव शाखा में सुबह 7:00 से 10:00 बजे तक रेल यातायात भी पूरी तरह से बाधित रहा। सियालदह दक्षिण शाखा के कैनिंग तालडी स्टेशन पर भाजपा कार्यकर्ताओं ने करीब आधा घंटे तक लोकल ट्रेनों को रोके रखा। महानगर के बड़ाबाजार में भी पार्टी की ओर से धिक्कार रैली निकाली गई। 
बशीरहाट में इंटरनेट बंद 
प्रशासन की ओर से बताया गया है कि संदेश खाली इलाके में अभी भी हालात सामान्य नहीं हुए हैं इसलिए यहां इंटरनेट सेवा बंद रखी गई है। हालांकि धारा 144 नहीं लगानी पड़ी है। क्षेत्र में तनाव का माहौल जस का तस है, लेकिन परिस्थिति नियंत्रण में है। संभावित संघर्ष के मद्देनजर इलाके में अतिरिक्त संख्या में पुलिसकर्मियों की तैनाती की गई है। 
पुलिस मुख्यालय लालबाजार का घेराव बुधवार को 
पार्टी की ओर से पहले ही घोषणा की गई है कि संदेशखाली हत्याकांड के खिलाफ बुधवार को कोलकाता पुलिस मुख्यालय लालबाजार का घेराव किया जाएगा। कोलकाता के अलावा उत्तर 24 परगना, दक्षिण 24 परगना तथा हावड़ा से भी बड़ी संख्या में भाजपा कार्यकर्ता लालबाजार घेराव के लिए पहुंचेंगे। घेराव के समय भाजपा कार्यकर्ताओं और पुलिस के बीच हिंसक संघर्ष की आशंका जताई जा रही है। इसे देखते हुए कोलकाता पुलिस ने भी तैयारियां शुरू कर दी हैं। 
पुलिस मुख्यालय के सूत्रों ने बताया कि पुलिस मुख्यालय से 200 मीटर की दूरी पर ही भाजपा कार्यकर्ताओं को रोकने की योजना बनाई गई है। इसके लिए बैरिकेडिंग की जाएगी। लालबाजार के आसपास बीबी गांगुली स्ट्रीट, डलहौजी और गणेश चंद्र एवेन्यू में ट्रैफिक को डायवर्ट किया जाएगा। 
गौरतलब है कि शनिवार रात को संदेशखाली इलाके में भाजपा का झंडा फाड़ने के बाद विवाद शुरू हुआ। इसको लेकर भाजपा और टीएमसी के कार्यकर्ताओं के बीच झड़प शुरू हो गयी। दावा किया जा रहा है कि इसी बीच टीएमसी कार्यकर्ताओं की ओर से चलाई गयी गोली में भाजपा के पांच कार्यकर्ताओं की मौत हो गयी। टीएमसी ने भी अपने तीन कार्यकर्ताों के मारे जाने का दावा किया है। 
आरोपितों की गिरफ्तारी नहीं
घटना के बाद दोनों पक्षों ने थाने में लिखित शिकायत दर्ज कराई थी, लेकिन अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है। केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने इस घटना को लेकर राज्य सरकार से रिपोर्ट मांगी थी जिसका राज्य सरकार ने कोई स्पष्ट जवाब नहीं दिया है। 
हिन्दुस्थान समाचार


 
Top