खेल

Blog single photo

भारत-वेस्टइंडीज के बीच दूसरा टेस्ट मैच जमैका में, सीरीज जीतने के इरादे से उतरेगी टीम इंडिया

30/08/2019

वीरेन्द्र सिंह

नई दिल्ली, 30 अगस्त (हि.स.)। वेस्टइंडीज के खिलाफ दो टेस्ट मैचों की सीरीज का दूसरा और आखिरी टेस्ट शुक्रवार से जमैका के सबीना पार्क स्टेडियम में खेला जाएगा। भारतीय समयानुसार यह मैच रात आठ बजे से शुरू होगा। भारतीय टीम ने जहां पहले टेस्ट में एकतरफा जीत हासिल की थी, वहीं दूसरे टेस्ट मैच को जीतकर वह 2-0 से सीरीज अपने नाम करना चाहेगी। साथ ही विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप के तहत खेली जा रही इस सीरीज में भारतीय टीम पूरे 120 अंक बटोरना चाहेगी। भारत एंटीगा टेस्ट 318 रनों के विशाल अंतर से जीतकर पहले ही 60 अंक हासिल कर चुकी है।

पहले टेस्ट मैच में वेस्टइंडीज टीम के प्रदर्शन की बात करें तो अपने गृह मैदान पर भी कैरेबियाई टीम का प्रदर्शन बेहद निराशाजनक रहा था। मेजबान टीम खेल के हर पहलू में जूझती नजर आई। इसका नतीजा यह रहा कि पहले टेस्ट में कैरेबियाई टीम को 318 रनों से बड़ी हार मिली थी। ऐसे में मेजबान टीम दूसरे टेस्ट में भारत को हराकर सीरीज में वापसी करने के साथ टेस्ट चैम्पियनशिप में भी अपनी स्थिति सुधारना चाहेगी।

पहले टेस्ट मैच की शुरुआत में वेस्टइंडीज की गेंदबाजी अच्छी रही थी लेकिन बाद में गेंदबाजी और बल्लेबाजी दोनों वर्गों में टीम ने काफी निराश किया था। पहले टेस्ट में खिलाड़ियों के प्रदर्शन को देखते हुए यह लाजमी लगता है कि दूसरे टेस्ट में कैरेबियाई बोर्ड टीम में कुछ बदलाव जरूर करेगा। अब देखना है कि किस खिलाड़ी पर दांव लगाकर मेजबान टीम पलटवार करने की सोचेगी।

वहीं भारतीय टीम की बात करें तो वो इस मुकाबले में भी बिना किसी बदलाव के उतर सकती है। जमैका में वेस्टइंडीज का रिकॉर्ड अच्छा है लेकिन भारतीय कप्तान विराट कोहली एंटीगा टेस्ट मैच वाली एकादश के साथ ही जमैका में मैदान पर उतरना चाहेंगे। कोहली नहीं चाहेंगे की उनकी विनिंग कॉम्बिनेश वाली टीम में बदलाव हो। हालांकि पिछले मैच में कुछ भारतीय खिलाड़ियों ने अपने प्रदर्शन से निराश किया था, लिहाजा उनके लिए इस मैच में खुद को साबित करने का मौका होगा। 

भारतीय टीम को उम्मीद होगी कि केएल राहुल और मंयक अग्रवाल टीम को अच्छी शुरुआत दें। पहले टेस्ट में इन दोनों बल्लेबाज में से कोई भी बड़ा स्कोर नहीं बना पाया। इनके अलावा बतौर विकेटकीपर बल्लेबाज खेल रहे रिषभ पंत को अब भी टीम में अपना स्थायी स्थान खोजना होगा। पहले टेस्ट मैच में वह पूरी तरह फ्लॉप रहे थे। अगर पंत को टेस्ट टीम में अपनी जगह पक्की करनी है तो उन्हें इस मैच में अच्छा परफॉर्म करना होगा, अन्यथा अनुभवी विकेटकीपर बल्लेबाज रिद्धिमान साहा लगातार टीम में वापसी के लिए दरवाजे खटखटा रहे हैं। गेंदबाजी डिपार्टमेंट में भी भारतीय स्पिनरों को और अच्छी गेंदबाजी करनी होगी, जिससे तेज गेंदबाजों को थोड़ी मदद मिल सके।

हिन्दु्स्थान समाचार


 
Top