मनोरंजन

Blog single photo

उप्र में फिल्मों की शूटिंग को बढ़ावा दिया जायेगा, खोलेंगे प्रोडक्शन इंस्टिट्यूट: मुकेश छबड़ा

01/12/2019

- जीवन में कुछ करने की जज्बा हो तो फिल्म जगत में पर्याप्त स्थान: डॉ. बहुगुणा
फ़िल्म इंडस्ट्री मुम्बई में लेकिन इसकी सफलता उत्तर प्रदेश जैसे हिंदी भाषी राज्यों पर ही निर्भर
लखनऊ फ़िल्म सिटी फोरम के माध्यम से छात्रों को रोजगार के अवसर भी मिल सकेंगे

राजेश तिवारी 
लखनऊ, 01 दिसम्बर (हि.स.)। गोमती नगर स्थित इन्दिरा गांधी प्रतिष्ठान के मर्करी हाल में रविवार को फ़िल्म फोरम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की मुख्य अतिथि पूर्व मंत्री और प्रयागराज से सांसद डॉ. रीता बहुगुणा ने इस प्रकार के प्रयास की सराहना करते हुए कहा कि बेशक फ़िल्म इंडस्ट्री मुम्बई में है लेकिन इसकी सफलता उत्तर प्रदेश जैसे हिंदी भाषी राज्यों पर ही निर्भर है। इसको नजरअंदाज नहीं किया जा सकता। लखनऊ फ़िल्म फोरम 71 नए आयाम से जोड़ने वाला है। इसका सीधा सम्बन्ध उत्तर प्रदेश सरकार के कौशल विकास और रोजगार परक योजनाओं के साथ है। 

उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र में अपार संभावनाएं है। संघर्ष तो जीवन के प्रत्येक क्षेत्र में है। इसमें भी है लेकिन जिनकी कला में रुचि है और जिनमें कुछ कर दिखाने का जज्बा है, वह फ़िल्म जगत में अपनी जगह बना सकता है। इस दौरान बालीबुड के प्रमुख कास्टिंग डायरेक्टर मुकेश छबड़ा ने लखनऊ में अपना प्रोडक्शन इंस्टिट्यूट खोलने का ऐलान किया। उन्होंने कहा कि लखनऊ फ़िल्म सिटी फोरम के माध्यम से छात्रों को रोजगार के अवसर भी मिल सकेंगे जिससे वह स्वयं स्टार्टअप की भी शुरुआत कर सकते हैं। यह फिल्म फोरम कौशल विकास की दृष्टि से महत्वपूर्ण रहा। इस मौके पर लघु फ़िल्म निर्माण प्रतियोगिता का आयोजन भी किया गया। इसमें पैंतीस फिल्मों को स्थान मिला। 

अमरीन फाउंडेशन की ओर से आयोजित फोरम में छबड़ा ने कहा कि उत्तर प्रदेश के अनेक ऐतिहासिक व प्राकृतिक रूप से समृद्ध स्थानों पर फिल्मों की शूटिंग को बढ़ावा दिया जाएगा। यह आयोजन उत्तर प्रदेश के विभिन्न स्थानों को बड़े परदे पर लाने का अवसर प्रदान करेगा। इसके अलावा प्रशिक्षित गाइड भी उपलब्ध कराए जाएंगे। इस आयोजन का लक्ष्य लखनऊ को फ़िल्म जगत के मुख्य केंद्र के रूप में विकसित करना है।इस समारोह में कलाकारों के विचार साझा करने के साथ ही अनेक विषयों पर बनी फिल्मों की स्क्रिनिंग भी की गई। इसके अलावा कला में रुचि रखने वाले युवा वर्ग को प्रोडक्शन हाउस के कर्ताधर्ता से लेकर कलाकारों के विचारों व अनुभव से परिचित कराया गया।

लखनऊ फ़िल्म फोरम रील टॉक में लघु सिनेमा, संवाद व फ़िल्म के अन्य पक्षों से संबंधित 71 मुद्दे शामिल थे। मुकेश छबड़ा, अश्वनी अय्यर तिवारी, चित्रांगदा सिंह, अनुप्रिया गोयंका, गौतम तलवार, अभिषेक सिंह, अपर्णा आचरेकर जैसे कलाकारों ने सहभागिता की। संचालन गौरव द्विवेदी ने किया।

हिन्दुस्थान समाचार


 
Top