क्षेत्रीय

Blog single photo

सीमावर्ती जनपदों में आश्रय स्थलों पर पहुंचे लोगों के लिए तत्काल हो भोजन की व्यवस्था : योगी

26/03/2020

संजय सिंह
लखनऊ, 26 मार्च (हि.स.)। कोरोना वायरस को लेकर लॉकडाउन के मद्देनजर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को वरिष्ठ अफसरों के साथ मौजूदा स्थिति की समीक्षा की।

इस दौरान उन्होंने सीमावर्ती जनपदों को लेकर निर्देश दिए कि उत्तर प्रदेश के भीतर जो भी व्यक्ति आश्रय स्थल, रैन बसेरों आदि स्थानों पर पहुंच गये हैं, उनके भोजन और शुद्ध जल की व्यवस्था वहीं तत्काल की जाए। 

प्रदेश में कोई भी व्यक्ति भोजन के बगैर न रहे, इसके लिए 14000 से ज्यादा वाहन वांलटियर्स के साथ सभी क्षेत्रों में भेज दिए गए हैं, जो घर-घर दूध, सब्जी, दवा, खाद्यान्न पहुंचा रहे हैं। वालंटियर्स इस बात का भी ध्यान रख रहे हैं कि भीड़ न जमा हो और लोगों के घरों तक खाद्य सामग्री समय से पहुंचती रहे। 

निराश्रित लोगों, श्रमिकों, बुजुर्गों, झुग्गी झोपड़ियों में रहने वाले, किसी भी तरह के आश्रय स्थलों में रहने वालों, हॉस्टलों में रहने वालों के लिए कम्युनिटी किचेन स्थापित कर दिए गए हैं। वालंटियर्स के सहयोग से इन सभी लोगों तक ताजा भोजन का पैकेट और शुद्ध जल पहुंचाया जा रहा है।  

इसके साथ ही मुख्यमंत्री के निर्देश पर सीएम हेल्पलाइन के माध्यम से प्रदेश की 60000 ग्राम पंचायतों से संवाद स्थापित कर उन्हें कोरोना के बचाव और इलाज की जानकारी देने तथा ग्राम पंचायतों में इससे जुड़ी किसी भी तरह की जानकारी प्राप्त करने की कार्रवाई की जा रही है। वहीं मुख्यमंत्री ने एक बार फिर कहा कि जमाखोरों, कालाबाजी करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। आवश्यकता पड़ने पर रासुका भी लगाया जाए।

हिन्दुस्थान समाचार


 
Top