अपराध

Blog single photo

शर्मसार हुई ममता, निर्दयी मां ने मासूम बेटे काे मौत के घाट उतारा

04/11/2019

रजनीकांत शुक्ल
हरिद्वार, 04 नवम्बर (हि.स.)। ममता को शर्मसार करने वाली यह हृदय विदारक घटना तीर्थनगरी हरिद्वार की उपनगरी कनखल में सामने आयी है। यहां एक कलयुगी मां ने अपने ही छह माह के बेटे को गंगा में फेंककर जान ले ली। पुलिस ने हत्यारी मां को गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस ने छह माह के मासूम बच्चे अंश की हत्या के आरोप में मां को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने जिस बैग में रखकर मासूम बच्चे को फेंका गया था वह बैग भी बरामद कर लिया है। आरोपित मां संगीता बलूनी ने मासूम बेटे को फेंकने की बात स्वीकार कर ली है। लेकिन जिस किसी ने भी मासूम को मां के मुंह से उनकी हत्या करने की बात सुनी, उसका दिल सहम उठा। किसी को इस बात पर यकीन नहीं हो रहा है कि एक मां भी अपनी औलाद के साथ ऐसा कर सकती है।

कनखल थाना में सोमवार को घटना का खुलासा करते हुए एसएसपी सेंथिल अबुदई कृष्णराज एस ने बताया कि सिडकुल की हीरो माटो कॉर्प कंपनी में कार्यरत दीपक बलूनी जो कि सरला सदन सर्वप्रिय विहार कॉलोनी कनखल में निवास करते हैं। रविवार तीन नवंबर की दोपहर करीब सवा तीन बजे उनकी पत्नी संगीता बलूनी ने सूचना दी कि उसके छह माह के मासूम बेटे अंश का अपहरण हो गया है। सूचना के बाद पुलिस में हड़कंप मच गया और पुलिस ने बच्चे की बरामदगी के लिए सघन तरीके से चेकिंग करने में जुट गई। लेकिन बच्चे के अपहरणकर्ताओं का कोई सुराग नहीं लग पाया। साथ ही पुलिस पीड़ित मां से पूछताछ कर घटना की जानकारी जुटाती रही। 

मां ने कहा- वह मासूम से परेशान हो गई थी
पुलिस टीम को बच्चे की मां संगीता के बार-बार बयानों में विरोधाभास नजर आया। पुलिस की सख्ती से की गई पूछताछ में संगीता बलूनी टूट गई। संगीता ने पुलिस को बताया कि वह अंश से परेशान हो गई थी। बारंबार दूध मांगने और रोने तथा उसकी शैतानियों से वह तंग आ गई थी। इसके चलते उसने एक काले रंग के बैग में बच्चे अंश को रखकर उसे गंगा में फेंक दिया। पुलिस ने जब सीसीटीवी फुटेज में संगीता को काले रंग का बैग ले जाने की फुटेज दिखाई तो वह पुलिस को गुमराह नहीं कर पाई। इसके बाद संगीता बलूनी की घिनौती करतूत से परदा उठ गया।

मासूम का किया अपहरण, पुलिस करती रही ग़ुमराह
अपने मासूम बच्चे का कत्ल करने वाली मां संगीता पुलिस को गुमराह करती रही। पहले उसने अपहरण की कहानी बताई। उसके बाद से लगातार वह घर के सामने एक अंजान आदमी के होने की कहानी सुनाती रही। पुलिस को एक बार तो यकीन नही हुआ कि एक मां अपनी ही औलाद के साथ ऐसा कर सकती है। पुलिस ने आरोपित मां के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उसको जेल भेज दिया है। मामले का पटाक्षेप करने वाली पुलिस टीम में कनखल एसओ हरिओमराज चौहान, जगजीतपुर चौकी प्रभारी शंभू सिंह सजवाण, कांस्टेबल मुकेश, महेंद्र सिंह तोमर,रविंद्र, अनिल कुमार, विनिता शामिल रहे।

हिन्दुस्थान समाचार


 
Top