खेल

Blog single photo

लार के इस्तेमाल पर प्रतिबंध से मुश्किलें आएंगी: जोश हेजलवुड

20/05/2020

दीपेश शर्मा
सिडनी, 20 मई (हि.स.)। ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज जोश हेजलवुड का कहना है कि गेंद को चमकाने के लिए लार का इस्तेमाल करने के तरीके पर प्रतिबंध लगने से थोड़ी मुश्किल तो आएगी, लेकिन स्विंग गेंदबाजी की कला पर ज्यादा फर्क नहीं पड़ेगा। 
अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने कोरोना वायरस के बाद खेल में वापसी के बाद थूक के उपयोग पर प्रतिबंध लगाने की सिफारिश की है। क्योंकि इससे संक्रमण का खतरा ज्यादा रहेगा। 
तेज गेंदबाज गेंद को एक तरफ से चमकाने के लिए लार और पसीने का उपयोग करते हैं, जिससे गेंद हवा में लेहरती है और स्विंग प्राप्त करती है।
उन्होंने डेली टेलीग्राफ को बताया, 'मैं खुद लार को इस्तेमाल करना चाहता हूं, लेकिन अगर उन्होंने आगे रखा तो हम सब एक ही खेल खेल रहे हैं। एक बार यह एक गेंदबाज के रूप में आपके पास आता है तो ईमानदारी से इसे रोकना मुश्किल होगा। और यह सुनिश्चित करने के लिए निगरानी रखना भी एक कठिन काम होगा।'
उन्होंने कहा, 'पसीना शायद गेंद को थोड़ा गीला करता है और वह उसे थोड़ा भारी भी कर देता है। मुझे लगता है कि आप पसीने का बहुत कम इस्तेमाल करेंगे। क्योंकि लोगों के हाथ वैसे ही खेलते वक्त पसीने से तर रहते हैं। मुझे नहीं लगता कि यह उतना बड़ा प्रभाव होगा जितना लोग सोचते हैं।'
चीन के वुहान शहर से शुरू हुए कोरोना वायरस के चलते दुनिया भर में खेल गतिविधियों पर रोक लग गई है और इसके चलते खेल प्रतियगिताएं या तो स्थगित कर दी गई हैं या फिर उन्हें रद्द कर दिया गया है। कोरोना महामारी के चलते ऑस्ट्रेलिया में सात हजार से ज्यादा लोग संक्रमित हैं और इसके चलते वहां 100 लोगों की मौत हो चुकी है। दुनिया में भी कोरोना वायरस का कहर बढ़ता ही जा रहा है। इस महामारी के चलते 48 लाख से ज्यादा लोग पीड़ित हैं और करीब तीन लाख 23 हजार से ज्यादा लोग इसके चलते मौत का शिकार बन चुके हैं। 
हिन्दुस्थान समाचार


 
Top