सरोकार

Blog single photo

कोरोना : हाथों से तैयार पकौड़ी, समोसा, हलुआ और गरीबों को राशन बांटती हैं सुमन सिंह

22/05/2020

दयाशंकर
सुल्तानपुर, 22 मई (हि.स.)। कोरोना महामारी के दौरान सड़क पर चाहे ड्यूटी करने वाला हो या कोई भूखा हर किसी की चिंता करना सुमन सिंह की एक पहचान बन गई है। 
राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के जिला संघचालक एवं सुप्रसिद्ध चिकित्सक डॉक्टर एके सिंह की पत्नी सुमन सिंह, सुमन हॉस्पिटल की डायरेक्टर हैं। इन्होंने बंदी के दौरान 29 मार्च से ही लगातार गरीबों को राशन किट बांट रही हैं। 20 किलो के राशन किट में चावल, आटा, आलू, तेल, मसाला जैसी चीजें रहती हैं। सड़क पर खड़े होकर ड्यूटी करने वाले पुलिसकर्मी के लिए जलपान की स्वच्छता एवं शुद्धता को ध्यान में रखते हुए सुमन सिंह अपने ही हाथों से जलपान तैयार करती है। जलपान में पकौड़ी, हलुआ, समोसा बनाती हैं। कभी-कभार चाय, बिस्कुट की व्यवस्था रहती है। अपनी गाड़ी से पूरे शहर में लोगों के पास तक पहुंचाती हैं। लोग जलपान का इंतजार भी करते हैं।पर आने वाले प्रवासी यात्रियों के लिए तीन दिन जलपान की भी व्यवस्था किया गया था।
हिन्दुस्थान समाचार से बातचीत में सुमन सिंह ने कहा कि इस महामारी के संकट काल में सड़क पर कड़ी धूप में खड़े होकर पुलिस वाले ड्यूटी करते हैं। ऐसे समय में चाय नाश्ते की दुकानें भी बंद है। इसलिए इनके जलपान की चिंता करने का विचार हमने किया। हम जो उन्हें खिलाएं वह स्वच्छ हो और शुद्ध हो इसलिए अपने घर में सब के सहयोग से तैयार करती हूँ। अलग अलग दिन समोसा पकौड़ी हलवा बना कर दिया जाता है।

हिन्दुस्थान समाचार


 
Top