बालिका से दुराचार व हत्या का आरोपित युवक अहमदाबाद से गिरफ्तार


Blog single photo

गुजरात पुलिस के सहयोग से अहमदाबाद में पकड़ाया


नरसिंहपुर, 10 जून (हि.स.)। काफी मशक्कत के बाद पुलिस ने जिले के तेंदूखेड़ा में बालिका के साथ दुराचार और उसकी हत्या के आरोपित को अहमदाबाद में गिरफ्तार कर लिया। 


गुरूवार को इस संबंध में पुलिस अधीक्षक विपुल श्रीवास्तव ने बताया कि 5 जून को थाना तेन्दूखेडा में द्वारा रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी कि उसकी 8 वर्षीय पुत्री घर से लापता है जिसके संबंध में आसपास के स्थानों पर एवं जान पहचान के लोगों से पूछने पर कोई जानकारी प्राप्त नहीं हुई है। प्रार्थी द्वारा आशंका व्यक्त की गयी कि संभवत: उसकी पुत्री को कोई अज्ञात व्यक्ति उसको बहला फुसलाकर ले गया है। सूचना पर थाना तेन्दूखेड़ा में अपराध क्रमांक 218/2021 धारा 363 भादवि कायम किया जाकर एवं प्रकरण नाबालिग बच्ची से जुड़ा होने से बच्ची की तलाश के लिए आसपास के क्षेत्रों में तलाश की जाकर क्षेत्रीय लोगों से पूछताछ की गयी। पूछताछ के दौरान जानकारी प्राप्त हुई कि संदेही नितिन पटैल के उक्त घटना में संलिप्त होने का संदेह हुआ। संदेही नितिन पटैल की तलाश करने पर उसके संबंध में जानकारी प्राप्त नहीं हो रही थी एवं वह अपनी उपस्थिति को भी छुपा रहा था और पुलिस एवं उसके परिजनों द्वारा बुलाने पर भी वह उपस्थित नहीं हो रहा था एवं इसी दौरान संदेही नितिन पटैल अपना मोबाईल बंद कर फरार हो गया।


अपृहत नाबालिग बच्ची की तलाश पतासाजी के लिए गठित पुलिस टीम द्वारा प्राप्त जानकारी अनुसार केदार सिंह पटैल के बंद पड़े मकान की  6 जून 2021 को तलाशी ली गयी। उक्त स्थान की बारीकी से तलाश करने पर भूसे के डेर में उक्त अपृहत बालिका का शव बरामद हुआ। प्रकरण में अपृहत बालिका का शव मिलने की सूचना पर आरोपित की पतासाजी एवं गिरफ्तारी के लिए 6 पुलिस टीमों का गठन किया गया। नितिन पटैल को पकड़ने के लिए रेल्वे स्टेशन, बस स्टेण्ड एवं आसपास के क्षेत्रों पर सधन चैकिंग करायी गयी। संदेही नितिन पटैल के संपर्क में आए लगभग 350 लोगों से पूछताछ की गयी साथ ही आसपास के क्षेत्रों एवं रेल्वे स्टेशनों पर लगे सीसीटीव्ही कैमरों की भी जांच कराई गई। जिसके परिणाम स्वरूप इटारसी रेल्वे स्टेशन में लगे सीसीटीव्ही कैमरे में संदेही नितिन पटैल ट्रेन में बैठकर जाता हुआ दिखाई दिया गया। संदेही नितिन पटैल के ट्रेन में बैठकर भागने के फुटेज सामने आने पर पुलिस अधीक्षक विपुल श्रीवास्तव द्वारा गठित की गयी टीमों को संदेही की तलाश के लिए भुसावल, बडोदा, सूरत एवं अहमदाबाद की ओर रवाना कर संदेही को गिरफ्त में लेने के लिए निर्देश दिये गये।


पुलिस महानिरीक्षक जबलपुर जोन जबलपुर भगवत सिंह चैाहान द्वारा आरोपी की पतासाजी एवं गिरफ्तारी हेतु सूचना देने वाले एवं गिफ्तार करने वाले को 30 हजार रूपये के नगद पुरस्कार से पुरस्कृत करने की घोषणा की गयी थी। संदेही नितिन पटैल की पतासाजी एवं गिरफ्तार के लिए तकनीकी माध्यमों का उपयोग किया जाकर मुखबिर तंत्र को भी सक्रिय कर आवश्यक जानकारियों को एकत्रित किया गया जिसके परिणाम स्वरूप जानकारी प्राप्त हुयी कि संदेही नितिन वर्तमान में अहमदाबाद (गुजरात) में है सूचना प्राप्त होते ही पुलिस टीम को तत्काल अहमदाबाद रवाना किया गया एवं अहमदाबाद पुलिस की मदद से संदेही नितिन पटैल को गिरफ्त में लेने में सफलता प्राप्त हुयी। संदेही नितिन पटैल की गिरफ्तारी उपरान्त उसे थाना तेन्दूखेड़ा लाकर पूछताछ की गयी पूछताछ पर आरोपी नितिन पटैल द्वारा घटना को घटित करना स्वीकार करते हुये नाबालिग बालिका के साथ दुराचार कर हत्या करना स्वीकार किया गया है। 


बालिका को बॉल देने के बहाने बुलाया  
आरोपी द्वारा बच्ची को बाल देने के बहाने से बुलाकर कमरा बंद करके दुराचार करना तथा साक्ष्य मिटाने के उद्देश्य से बच्ची की हत्या कर शव को छुपाया गया था। आरोपी नितिन पटैल को न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत किया जाकर अन्य आवश्यक साक्ष्य एकत्रित किए जा रहे है।


हिन्‍दुस्‍थान समाचार/संजय/राजू 

You Can Share It :