अंतरराष्ट्रीय

Blog single photo

यूरेनियम संवर्धन मामले में आग से खेल रहा है ईरान: ट्रम्प

02/07/2019

ललित बंसल
लॉस एंजेल्स, 02 जुलाई (हि.स.)। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा है कि तयशुदा मात्रा से अधिक यूरेनियम का संवर्धन कर ईरान आग के साथ खेल रहा है। ईरान ने सोमवार को वर्ष 2015 में अमेरिका सहित छह बड़े राष्ट्रों के बीच आणविक समझौते के अनुरूप तयशुदा यूरेनियम संवर्धन से अधिक यूरेनियम भंडारण की घोषणा की है।
ईरान की फ़ार्स संवाद समिति ने सोमवार को कहा कि ईरान ने तयशुदा यूरेनियम के तीन सौ किलो भंडारण से अधिक भंडारण कर लिया है। ईरान के विदेश मंत्री जावेद जरीफ ने ट्वीट कर कहा कि ईरान का यह क़दम आणविक समझौते के कतई ख़िलाफ़ नहीं है। यह तो अमेरिका को एक जवाब भर है।
वर्ष 2015 में तत्कालीन अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा सहित इंग्लैंड, फ्रांस, जर्मनी, रूस और चीन ने 'ज्वाइंट कॉम्प्रिहेंसिव प्लान ऑफ एक्शन' के तहत यह फ़ैसला किया था कि ईरान एक तयशुदा संवर्धित यूरेनियम के भंडार से अधिक यूरेनियम का भंडारण नहीं करेगा। इस पर यूरोपीय देशों ने कहा कि एक ओर जब वे अमेरिका और ईरान को करीब लाने की कोशिश कर रहे हैं, ईरान को इस कदम से बचाना चाहिए था।
इंग्लैंड के विदेश मंत्री जरमि हंट ने कहा है कि हम इस आणविक समझौते का सम्मान करते हैं। हम नहीं चाहते, ईरान आणविक हथियार तैयार करे। इसके बावजूद वह ऐसा करता है तो हमारे पास समझौते से बाहर आने के अलावा कोई विकल्प नहीं बचेगा।
राष्ट्रपति ट्रम्प से सोमवार को पत्रकारों ने ईरान के यूरेनियम संवर्धन भंडारण की ओर उनका ध्यान आकृष्ट किया। उन्होंने कहा कि यह बात ईरान को भी मालूम है। मुझे भी इसकी जानकारी मिल रही है। ईरान आग के साथ खेल रहा है।
न्यूयॉर्क से संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुतेरस के प्रवक्ता ने कहा है कि ईरान को चाहिए कि वह समझौते की शर्तों के अनुरूप बातचीत को आगे बढ़ाए। उसने यूरेनियम संवर्धन के भंडारण में वृद्धि कर अपने ही देश के नागरिकों के आर्थिक हितों के विरुद्ध जा रहा है। इधर इज़राइल के प्रधानमंत्री नेतन्याहू ने भी कहा है कि ईरान के इस क़दम के बाद अब यूरोपीय देशों को समझौते से बाहर आ जाना चाहिए।

हिन्दुस्थान समाचार


 
Top