क्षेत्रीय

Blog single photo

विधानसभा चुनाव को लेकर सभी कोषांगों को उपायुक्त ने दिये कई दिशा-निर्देश

09/10/2019

विकास पांडेय

रांची, 09 अक्टूबर( हि.स.)। आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर जिला प्रशासन ने तैयारियां तेज कर दी हैं। रांची के उपायुक्त
राय महिमापत रे ने बुधवार को लेकर विभिन्न कोषांगों के वरीय प्रभारी-नोडल
पदाधिकारियों
और सभी निर्वाची पदाधिकारियों के साथ बैठक की। 



बैठक में उपायुक्त ने कोषांगों, विभिन्न विधानसभा क्षेत्रों के लिए प्रतिनियुक्त सहायक
निर्वाचन पदाधिकारी द्वारा किए जा रहे कार्यों की समीक्षा की
 साथ ही कई आवश्यक दिशा-निर्देश दिये। चुनाव की अधिसूचना जारी होने से पहले तैयारी की
समीक्षा करते हुए
उपायुक्त ने कहा कि सभी बूथों की
वनरेबिलिटी मैपिंग बेहद जरूरी है
, मतदाताओं को नकारात्मक रुप से वोटिंग के लिए प्रभावित तो नहीं किया जा रहा है इसकी पूरी जानकारी एकत्रित कर उन्होंने इसकी रिपोर्ट 18 अक्टूबर तक उपलब्ध कराने का निदेश दिया।



उपायुक्त ने सभी आरओ को कम्यूनिकेशन प्लान बनाने का निदेश देते हुए कहा कि हर बूथ में
ऐसे पांच लोग होने चाहिए
, जिनसे मतदाता कम्यूनिकेशन कर सकें।
उन्होंने सभी आरओ को वीआईपी वोटर्स की मार्किंग कराने को कहा।
साथ ही कलस्टर मैनेजमेंट प्लान बनाने का निर्देश  दिया। उपायुक्त ने बूथों
में एस्सयोर्ड मिनिमम फैसिलिटी सुनिश्चित किये जाने का
भी
निर्देश दिया। बूथों में बिजली
, पानी,
शौचालय, मोबाइल
चार्जिंग
और विभिन्न माता
समितियों
की ओर से खाने की व्यवस्था भी
सुनिश्चित करने को कहा। उन्होंने सिविल सर्जन को कलस्टर पर मेडिकल फैसिलिटी की
व्यवस्था करने का निर्देश दिया।
उपायुक्त ने स्वीप कोषांग की समीक्षा करते हुए मतदाता जागरुकता के लिए
क्रियाकलापों को गति देने को कहा। मतदाता सूची में नाम होने पर मतदान के लिए
आवश्यक दस्तावेजों की जानकारी होर्डिंग्स के माध्यम से देने का निर्देश दिया।
उपायुक्त ने सभी आरओ को मतदान केन्द्र में स्वीप पेंटिंग कराने को कहा। रे ने
प्रज्ञा केन्द्रों से मतदाताओं को दी जानेवाली जानकारी
, चौकीदार परेड, मॉडल बूथ लिस्ट और पुलिसकर्मियों
को प्रशिक्षण की
भी समीक्षा की।



उपायुक्त ने दिव्यांग वोटरों के चिह्नीकरण, बूथ मैनेजमेंट प्लान, आदर्श आचार
संहिता से जुड़े मामलों
, राजनीतिक दलों
के साथ बैठक
, वोटर हेल्पलाइन नंबर 1950, बीएलओ को प्रशिक्षण आदि की समीक्षा कर आवश्यक-निर्देश दिया। सेक्टर मजिस्ट्रेट की ट्रेनिंग बैचवार कराने का भी उपायुक्त ने निर्देश दिया। बैठक में उपविकास आयुक्त अनन्य मित्तल, सिटी एसी, ग्रामीण एसपी और अन्य पुलिस पदाधिकारी उपस्थित थे। सी-वीजिल कोषांग की समीक्षा करते हुए हर स्कूल में सी-विजिल
ऐप की
ट्रेनिंग देने का निदेश दिया।



बैठक
में कम्प्यूटर कोषांग/आईटी सेल
, सिंगल विंडो
सेल
,
वाहन और रुट चार्ट
कोषांग
, ईवीएम बैलेट पेपर, पेपर सील, पोस्टल
बैलेट
, ईडीसी कोषांग
, डिस्ट्रिक कॉन्टेक्ट सेन्टर, एसएमएस
मॉनिटरिंग पोल-डे कम्यूनिकेशन प्लान कोषांग
, प्रेक्षक कोषांग, आय-व्यय लेखा
जांच कोषांग
और पीडब्ल्यूडी कोषांग की अब
तक की चुनाव तैयारियों की विस्तृत समीक्षा की गयी
तथा आवश्यक
दिशा निर्देश दिये गये।



उपायुक्त
ने कहा कि विधानसभा चुनाव के लिए गठित विभिन्न कोषांगों की बैठक हर हफ्ते होगी
, जिसमें कार्यप्रगति की समीक्षा की जायेगी।



हिन्दुस्थान समाचार



 



 


 
Top