राष्ट्रीय

Blog single photo

कांग्रेस के डूबते जहाज से कैप्टन पहले भागा : शिवराज सिंह चौहान

11/07/2019

मनीष कुलकर्णी
नागपुर, 11 जुलाई (हि.स.)। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने राहुल गांधी और कांग्रेस पर तंज कसते हुए कहा कि कांग्रेस ऐसा डूबता हुवा सियासी जहाज है, जिसका कैप्टन सबसे पहले भाग गया।

महाराष्ट्र के नागपुर में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में चौहान ने कहा कि लोकसभा चुनाव में बेहतर प्रदर्शन करने के बावजूद भाजपा अपने लक्ष्य पर बनी हुई है। जीत का नशा और सत्ता के उन्माद से भाजपा अब भी बहुत दूर है। पार्टी अध्यक्ष अमित शाह के अनुसार भाजपा को अभी और अच्छा प्रदर्शन करना चाहिए। अभी भाजपा को देश के बहुत सारे राज्यो में पार्टी की पहुंच बढानी है, इसलिए भाजपा ने देशभर में सदस्यता अभियान छेड रखा है। चौहान ने बताया कि केवल चुनाव जीतना हमारा लक्ष्य नहीं है बल्कि हमारा आंदोलन सदस्यता अभियान के जरिए पार्टी को मजबूती प्रदान कर जनकल्याण करने का है। 

कांग्रेस डूबता जहाज 
कांग्रेस पर तीखा हमला करते हुए चौहान ने कहा कि लोकसभा चुनाव में भारी जीत हासिल करने के बाद भी हमारी पार्टी से कोई नेता छुट्टी मनाने नहीं गया। हम लोक सदस्यता अभियान के माध्यम से लोगों तक पहुंचने के प्रयास में जुट गए। इसके विपरीत काँग्रेस एक ऐसा डुबता हुआ सियासी जहाज है, जिसका कैप्टन सबसे पहले भाग खडा हुआ। असल में काँग्रेस में कोई जिम्मेदारी स्वीकार कर त्यागपत्र देना ही नहीं चाह रहा था। नतीजतन राहुल गांधी को त्यागपत्र देने का फैसला करना पड़ा। अब राहुल के त्यागपत्र के बाद काँग्रेस के अन्य नेताओं में त्यागपत्र देने कि होड़ मची है। काँग्रेस कि अंदरूनी गहमा-गहमी पर चुटकी लेते हुए चौहान ने कहा कि, जिस पार्टी को अध्यक्ष ही नहीं है, वहां इन नेताओ के त्यागपत्र कौन स्वीकार रहा है, यह समझ से परे है। 

तोडफोड़ की राजनीति से दूर
कर्नाटक और गोवा कि राजनीतिक गतिविधियो पर पूछे गए सवाल के जवाब में चौहान ने कहा कि भाजपा तोड-फोड की राजनीति में विश्वास नही रखती। यदि ऐसा होता तो हम बहुत पहले यह सब कर चुके होते। काँग्रेस के साथ यह दिक्कत है कि इनका कोई नेता नहीं है। विधायक और सांसदों की आवाज नहीं सुनी जाती। नतीजतन काँग्रेस के लोग खुद के असुरक्षित और असहज महसूस करते है। इसके चलते वह सुरक्षित माहौल खोजते हुए भाजपा का रुख कर रहे हैं। 

गांधी की पार्टी गांधी ने डुबोई 
बीते कई सालों से काँग्रेस केवल एक घराने की पार्टी बन के रह गई है। जब भी नेहरू-गांधी परिवार के बाहर का कोई आदमी सामने आया तो उसे राजनीतिक रूप से खत्म कर दिया गया। पी.वी. नरसिंह राव, सीताराम केसरी जैसे नेताओं की उपेक्षा और दुर्दशा पूरे देश को पता है। काँग्रेस को सिर्फ मनमोहन सिंह जैसे पिंजरे में बंद रहने वाले लोग पसंद है। दूसरा नेतृत्त्व इस पार्टी में उभरने नहीं दिया जाता। इतना ही नहीं, इनसे गठजोड़ करने वाले कर्नाटक के मुख्यमंत्री देवगौडा को सिद्धारमैया ने आंसू बहाने पर मजबूर कर दिया था। चौहान ने कहा कि गांधीजी की बनाई इस पार्टी को गांधी ही डुबो रहे हैं। 

बलात्कारी को जल्द फांसी हो 
बलात्कार जैसे जघन्य अपराध के लिए फांसी के प्रावधान पर अपनी राय रखते हुए चौहान ने कहा कि मैं देश के चीफ जस्टिस से गुजारिश करना चाहता हूं कि बलात्कार से जुडे मामलों का जल्द से जल्द निपटारा कर अपराधी को बिना समय गंवाये फांसी की सजा मिलनी चाहिए। 

 हिन्दुस्थान समाचार


 
Top