क्षेत्रीय

Blog single photo

उप्र. के विश्वविद्यालयों में 83 दिनों के भीतर होंगे दीक्षान्त समारोह, प्रस्तावित तिथियां घोषित

09/06/2019

लखनऊ, 09 जून (हि.स.)। उत्तर प्रदेश के राज्यपाल एवं राज्य विश्वविद्यालयों के कुलाधिपति राम नाईक ने सत्र 2019-20 में सम्पन्न होने वाले दीक्षान्त समारोह की प्रस्तावित तिथियां घोषित कर दी हैं। रविवार को जारी कैलेण्डर के अनुसार सभी विश्वविद्यालयों के दीक्षान्त समारोह 83 दिवसों में सम्पन्न होकर छात्र-छात्राओं को उपाधियां वितरित हो जायेंगी। दीक्षान्त समारोह पारम्परिक भारतीय वेशभूषा में सम्पन्न होंगे। 

राजभवन के प्रवक्ता ने बताया कि इस वर्ष प्रथम दीक्षान्त समारोह 22 अगस्त को मदन मोहन मालवीय प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय गोरखपुर का होना है तथा 12 नवम्बर को अंतिम दीक्षान्त समारोह प्रोफेसर राजेन्द्र सिंह (रज्जू भय्या) विश्वविद्यालय प्रयागराज का सम्पन्न होगा।

पिछले वर्ष भी प्रथम दीक्षान्त समारोह 24 अगस्त को मदन मोहन मालवीय प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय गोरखपुर का हुआ था तथा अंतिम दीक्षान्त समारोह 08 दिसम्बर को इलाहाबाद राज्य विश्वविद्यालय का सम्पन्न हुआ था, जिसका नाम बदलकर अब प्रोफेसर राजेन्द्र सिंह (रज्जू भय्या ) विश्वविद्यालय प्रयागराज कर दिया गया है। पिछले साल सभी विश्वविद्यालयों के दीक्षान्त समारोह सम्पन्न होने में कुल 107 दिवस लगे थे। 

प्रवक्ता ने बताया कि राम नाईक ने उत्तर प्रदेश के राज्यपाल पद की शपथ ग्रहण करने के पश्चात से ही कुलाधिपति के रूप में प्रदेश की उच्च शिक्षा की गुणवत्ता बढ़ाने का प्रयास कर रहे हैं। पूर्व में विश्वविद्यालय में शैक्षिक कलैण्डर घोषित न होना, समय से प्रवेश न होना, ससमय परीक्षाएं आयोजित एवं परिणाम घोषित न होना एवं समय से दीक्षान्त समारोह सम्पन्न न होने से छात्र-छात्राओं को समय से उपाधियां भी नहीं प्राप्त हो पाती थीं। इससे छात्र-छात्राओं को प्रतियोगी परीक्षाओं में सम्मिलित होने में बाधा उत्पन्न होती थी। राज्यपाल ने विश्वविद्यालय के कैलण्डर को सुव्यवस्थित करने एवं शिक्षा में गुणात्मक सुधार के लिए प्रतिवर्ष दो बार कुलपति सम्मेलन आयोजित कर उत्तर प्रदेश शासन के उच्चाधिकारियों, कुलपतियों एवं विश्वविद्यालय के अधिकारियों से चर्चा की तथा मार्गदर्शन किया। इसका ही परिणाम है कि अब विश्वविद्यालयों में समय से प्रवेश हो रहे है तथा परीक्षाएं आयोजित होकर परिणाम भी घोषित हो रहे हैं। सभी विश्वविद्यालयों के दीक्षान्त समारोह भी निश्चित समय सीमा में करने के लिए प्रस्तावित कैलेण्डर घोषित किया गया है।

इस वर्ष के दीक्षान्त समारोह की प्रस्तावित तिथियां 

1- 22 अगस्त 2019 को मदन मोहन मालवीय प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय गोरखपुर। 

2- 26 अगस्त 2019 को ख्वाजा मुईनुद्दीन चिश्ती उर्दू, अरबी-फारसी विश्वविद्यालय लखनऊ। 

3- 28 अगस्त 2019 को उत्तर प्रदेश पंडित दीनदयाल उपाध्याय पशु चिकित्सा विज्ञान विश्वविद्यालय एवं गो अनुसंधान संस्थान मथुरा। 

4- 30 अगस्त 2019 को संजय गांधी स्नातकोत्तर आयुर्विज्ञान संस्थान लखनऊ।

5- 02 सितम्बर 2019 को महात्मा ज्योतिबा फुले रूहेलखण्ड विश्वविद्यालय बरेली।

6- 04 सितम्बर 2019 को नरेन्द्र देव कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय फैजाबाद।

7- 09 सितम्बर 2019 को महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ वाराणसी।

8- 11 सितम्बर 2019 को छत्रपति शाहू जी महाराज विश्वविद्यालय कानपुर।

9- 16 सितम्बर 2019 को सरदार वल्लभभाई पटेल कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय मेरठ।

10- 19 सितम्बर 2019 को डाॅ0 राम मनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय फैजाबाद।

11- 23 सितम्बर 2019 को उत्तर प्रदेश राजर्षि टण्डन मुक्त विश्वविद्यालय इलाहाबाद।

12- 26 सितम्बर 2019 को बुन्देलखण्ड विश्वविद्यालय झांसी।

13- 30 सितम्बर 2019 को चैधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय मेरठ।

14- 03 अक्टूबर 2019 को बांदा कृषि एवं प्रौद्योगिक विश्वविद्यालय बांदा।

15- 09 अक्टूबर 2019 को चन्द्रशेखर आजाद कृषि एवं प्रौद्योगिक विश्वविद्यालय कानपुर।

16- 11 अक्टूबर 2019 को डाॅ0 भीमराव आंबेडकर विश्वविद्यालय आगरा।

17- 14 अक्टूबर 2019 को लखनऊ विश्वविद्यालय लखनऊ।

18- 16 अक्टूबर 2019 को डाॅ. एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय लखनऊ।

19- 18 अक्टूबर 2019 को सिद्धार्थ विश्वविद्यालय कपिलवस्तु सिद्धार्थनगर।

20- 21 अक्टूबर 2019 को भातखण्डे संगीत संस्थान सम विश्वविद्यालय लखनऊ।

21- 23 अक्टूबर 2019 को दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय गोरखपुर।

22- 25 अक्टूबर 2019 को किंग जार्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय लखनऊ।

23- 01 नवम्बर 2019 को सम्पूर्णानन्द संस्कृत विश्वविद्यालय वाराणसी।

24- 04 नवम्बर 2019 को वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय जौनपुर।

25- 07 नवम्बर 2019 को डाॅ. शकुन्तला मिश्रा राष्ट्रीय पुनर्वास विश्वविद्यालय लखनऊ।

26- 12 नवम्बर 2019 को प्रोफेसर राजेन्द्र सिंह (रज्जू भय्या) विश्वविद्यालय प्रयागराज। 

राजभवन के प्रवक्ता ने बताया कि शेष तीन विश्वविद्यालय हरकोर्ट बटलर प्राविधिक विश्वविद्यालय कानपुर, जननायक चन्द्रशेखर विश्वविद्यालय बलिया एवं डाॅ. राम मनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान, लखनऊ नये हैं तथा इनके छात्र अभी स्नातक स्तर तक नहीं पहुंचे हैं। ऐसे में इनका दीक्षान्त समारोह अभी सम्पन्न नहीं होना है।

हिन्दुस्थान समाचार/पीएन द्विवेदी/सुनीत 
 


 
Top