राष्ट्रीय

Blog single photo

लोनी भाजपा विधायक नंद किशोर गुर्जर भी बिग बॉस के प्रसारण के खिलाफ मैदान में कूदे

09/10/2019

फरमान अली
- केंद्रीय मंत्री को पत्र लिखकर की बिग बॉस को बंद करने की मांग की

गाजियाबाद, 09 अक्टूबर (हि.स.)। टीवी धारावाहिक बिग बॉस के प्रसारण के खिलाफ लोनी के भाजपा विधायक नंदकिशोर गुर्जर भी मैदान में आ गए हैं। उन्होंने बुधवार को सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर को पत्र लिखकर विवादित कार्यक्रम ‘बिग बाॅस-13’ पर तुरंत रोक लगाने की मांग की। 
विधायक ने केंद्रीय मंत्री को लिखे पत्र में कहा कि बिग बाॅस कार्यक्रम का प्रसारण प्राइम टाइम के स्लाॅट में किया जा रहा है, जिसके कंटेट में बेहद ही अश्लीलता और फूहड़ता का खुले-आम घिनौना प्रदर्शन किया जा रहा है। विधायक ने कहा कि कार्यक्रम के कंटेंट की स्थिति इस कदर खराब है कि इसे घेरलू माहौल में देखना तक मुश्किल है। कार्यक्रम का कंटेट इस प्रकार तैयार किया गया है, जिससे देश के पौराणिक एवं एतिहासिक पारंपरिक सामाजिक और सांस्कृतिक मूल्यों को नुकसान पहुंचाया जा सके। विधायक ने कार्यक्रम पर टीआरपी के चक्कर में भारतीय संस्कृति एवं नैतिकता को ताक पर रखने की बात कहीं, जिसके अनुसार कार्यक्रम में ‘‘बेड फ्रेंड फोरेवर’ जैसे काॅन्सेप्ट की अवधारणा से देश की मूल सांस्कृतिक और युगों से स्थापित सामाजिक नैतिक व्यवस्था को चोट पहुंचाया जा रहा है। 
विधायक ने पत्र में कहा है कि जानबूझकर चर्चा में बने रहने के लिए कार्यक्रम के द्वारा दो विपरीत धर्म मुस्लिम एवं सनातन (ब्राह्मण) धर्म के लोगों को बेड पार्टनर बनाकर आपत्तिजनक दृश्य प्रसारित करवाए जा रहे हैं, जिससे सामाजिक समरसता को नुकसान पहुंच रहा है। समाज में तनाव बढ़ने के साथ-साथ सामाजिक माहौल दूषित होने की बात विधायक नंदकिशोर गुर्जर ने पत्र में लिखी। विधायक ने कहा कि एक तरफ देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी देश की समृद्ध एवं प्राचीन संस्कृति को विश्व पटल पर बड़े ही अथक प्रयास से पुनः स्थापित कर रहे है और दूसरी तरफ पहले भी विवादों में रहें बिगबाॅस जैसे कार्यक्रमों को अनुमति दी जा रही है जो अनुचित है। 
विधायक ने बिग बाॅस के प्रसारण पर तुरंत रोक लगाने के अतिरिक्त ऐसे अश्लील एवं विवादित सीरियल जो टीवी के माध्यम से देश के बड़े वर्ग तक सीधा पहुंचते है, उनके लिए सेंसर की व्यवस्था करने की भी मांग रखी जिससे इस तरह के सीरियल को प्रसारण से पूर्व रोका जा सकें।
हिन्दुस्थान समाचार


 
Top