Hindusthan Samachar
Banner 2 शुक्रवार, जून 22, 2018 | समय 22:15 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

अति विलासितापूर्ण जीवन जीते हैं उत्तर कोरियाई तानाशाह किम

By HindusthanSamachar | Publish Date: Jun 13 2018 5:01PM
अति विलासितापूर्ण जीवन जीते हैं उत्तर कोरियाई तानाशाह किम
न्यूयॉर्क, 13 जून (हि.स.)। उत्तर कोरिया भले भुखमरी के कगार पर है, लेकिन उसके शासक किम जोंग उन अति विलासितार्ग्ण जीवन व्यतीत करते हैं। बताया जाता है कि साल में वह केवल 20 करोड़ रुपये की शराब पी जाते हैं। यह खुलासा एक रिपोर्ट से हुआ है। बड़ी हस्तियों की धन दौलत का आंकलन करने वाली साइट 'द स्काउंडर' और यूएन रिपोर्ट के अनुसार किम के पास वर्ष 2018 में सात से दस अरब डॉलर (चार खरब रुपय से सात खरब तक) की रकम होनी चाहिए। रिपोर्ट के मुताबिक, 34 वर्षीय किम की ज्यादातर कमाई अफ्रीका से अवैध तौर पर उत्तर कोरिया आने वाले हाथी दांत, शराब की तस्करी के अलावा हथियार और ड्रग्स बेचने से होती है। दुनियाभर के कई देशों में उनके बैंक खाते हैं। ये बैंक आमतौर पर मध्य अमेरिका, यूरोप और एशिया में हैं जहां अलग-अलग नामों से उनके खाते हैं। साल 2013 में अमेरिका और दक्षिण कोरिया ने संयुक्त तौर पर एक जांच में पाया था कि उत्तर कोरिया में 200 से ज्यादा बैंक खाते ऐसे हैं, जिनमें अपहरण, जालसाजी और हथियारों को बेचने से प्राप्त धन पहुंचता है। किम के बुलावे पर उत्तर कोरिया जाने वाले बास्केटबाल स्टार डेनिस रॉडमैन के अनुसार, किम बड़े पैमाने पर धन खर्च करने वाली शख्सियत हैं। उनकी जिंदगी विलासिता से भरपूर है। वह हर साल अपने और अपने परिवार के ऊपर 60 करोड़ ड़ॉलर (करीब 405 करोड़ रुपये) खर्च करते हैं। केवल उनका शराब का ही सालभर का खर्च 20 करोड़ रुपये हैं। उत्तर कोरिया से भागकर दूसरे देशों में शरण लेने वाले लोगों का कहना है कि किम का जीवन खासा विलासितापूर्ण है। उनके पास सुपर याच, द्वीप और रेसोर्ट्स हैं। वह जमकर पार्टियां करते हैं जिसमें वफादार अफसर और परिचित शामिल होते हैं। याराब और पनीर उनकी पसंदीदा है। किम के उत्तर कोरिया में कई घर हैं। मुख्य घर राजधानी प्योंगयांग में है, जिसकी जबरदस्त सुरक्षा रहती है। इसमें विलासिता के सारे साधन हैं। वह महंगी घड़ियों के भी शौकीन हैं। इसके अलावा उनके पास कई कीमती पियानो हैं। उनका अपना एक हजार सीटों वाला एक सिनेमा थिएटर भी है। यूएन रिपोर्ट रिपोर्ट के मुताबिक, साल 2011 में अगर किम के लिए विदेशों से 300 मिलियन डॉलर के सामान खरीदे गए तो अगले साल विलासित पर खर्च की रकम दोगुनी होकर 646 मिलियन डॉलर तक पहुंच गई। यह वह साल था जब किम ने अपने पिता किम जोंग इल के निधन के बाद सत्ता संभाली थी। विदेशों में किम की खरीदारी के लिए रकम कई फंडों से बाहर के देशों में उनके तमाम खातों में ट्रांसफर की जाती है। हिन्दुस्थान समाचार/कृष्ण
image