Hindusthan Samachar
Banner 2 शनिवार, फरवरी 23, 2019 | समय 10:58 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

केजरीवाल ने की गृहमंत्री से मुलाकात, उपराज्यपाल के क्षेत्राधिकार पर उठाया सवाल

By HindusthanSamachar | Publish Date: Jul 11 2018 8:22PM
केजरीवाल ने की गृहमंत्री से मुलाकात, उपराज्यपाल के क्षेत्राधिकार पर उठाया सवाल

नई दिल्ली, 11 जुलाई (हि.स.)। दिल्ली सरकार और उपराज्यपाल के क्षेत्राधिकार को लेकर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने बुधवार को गृहमंत्री राजनाथ सिंह से उनके निवास पर मुलाकात की। माना जा रहा है कि सुप्रीम कोर्ट के चार जुलाई के फैसले के बाद की स्थितियों को लेकर केजरीवाल ने गृहमंत्री से विस्तृत विचार-विमर्श किया।

हालांकि केजरीवाल ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लागू करने का अनुरोध करते हुए पिछले सप्ताह राजनाथ सिंह से मिलने का समय मांगा था। तब गृहमंत्री दिल्ली से बाहर थे और मंगलवार शाम वापसी के बाद बुधवार को मुलाकात संभव हो सकी।

मुलाकात के बाद केजरीवाल ने बताया, “दिल्ली सरकार की शक्तियों के लेकर आए सुप्रीम कोर्ट के निर्णय को लेकर गृहमंत्री से मुलाकात की। उन्हें बताया कि उपराज्यपाल और केंद्र सरकार अपने तरीके से सुप्रीम कोर्ट के आदेश की व्याख्या कर रहे हैं। इस आदेश के अनुसार दिल्ली सरकार के तहत आने वाले प्रशासनिक अधिकारियों का प्रबंधन भी शामिल है लेकिन उपराज्यपाल और केंद्र सुप्रीम कोर्ट के आदेश का पालन करने से इनकार कर रहे हैं।”

उल्लेखनीय है कि केजरीवाल का दावा है कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले के हिसाब से दिल्ली सरकार के अधिकारियों के तबादले एवं तैनाती समेत सेवा विषयक मामलों पर उसका नियंत्रण है। इसी वजह से पिछले हफ्ते शीर्ष कोर्ट के फैसले के कुछ ही घंटे बाद दिल्ली सरकार ने नौकरशाहों के तबादले एवं तैनाती की व्यवस्था शुरू की थी, जिसमें मुख्यमंत्री को मंजूरी प्रदान करने वाला अधिकार था लेकिन सेवा विभाग ने यह कहते हुए उसे मानने से इनकार कर दिया कि सुप्रीम कोर्ट ने 2015 की वह अधिसूचना खारिज नहीं की है, जो गृहमंत्री को तबादले एवं तैनाती का प्राधिकार बनाती है। तब केजरीवाल ने कहा था कि यह बड़ा खतरनाक है कि केंद्र सरकार राज्यपाल को शीर्ष अदालत के आदेश का पालन नहीं करने की सलाह दे रही है।

हालांकि गृह मंत्रालय ने एक बयान जारी कर इन आरोपों को इनकार कर दिया था। इसीलिए केजरीवाल और गृहमंत्री की मुलाकात को राजनीतिक हलकों में काफी अहम माना जा रहा है।

हिन्दुस्थान समाचार /रवीन्द्र मिश्र

लोकप्रिय खबरें
चुनाव 2018
image