Hindusthan Samachar
Banner 2 शुक्रवार, सितम्बर 21, 2018 | समय 01:45 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

मुख्यमंत्री ने सिटी बस स्टैंड और वर्कशाप की रखी आधारशिला

By HindusthanSamachar | Publish Date: Apr 16 2018 5:52PM
मुख्यमंत्री ने सिटी बस स्टैंड और वर्कशाप की रखी आधारशिला
पानीपत ,16 अप्रैल (हि.स.) । हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने पानीपत शहर से लगते गांव सिवाह में 17 करोड़ रुपये की लागत से बनाए जाने वाले नए सामान्य व सिटी बस स्टैंड और वर्कशाप की सोमवार को आधारशिला रखी। इस अवसर पर एक जनसभा का आयोजन भी किया गया। राज्य परिवहन विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव आरआर जोवल ने सिवाह में बनने वाले इस नये आधुनिक बस अडडे के बारे में जानकारी दी। मुख्यमंत्री ने पानीपत की 29 अवैध कॉलोनियों को पक्का करने और मडलौडा में नया बस स्टैंड बनाए जाने की घोषणा की। मुख्यमंत्री ने कहा कि बेहतर परिवहन सुविधाएं किसी भी देश-प्रदेश के विकास में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करती हैं। इससे जनता के समय और धन दोनों की बचत होती है। जब से हरियाणा बना, किसी भी पार्टी की सरकार ने पानीपत में लगने वाले जाम के समाधान के लिए बस अड्डे को दूसरे स्थान पर बनाने का विचार नहीं किया। यह पहली सरकार है जिसने पानीपत ही नहीं, जिन बड़े शहरों के बस अड्डे शहर के बीच में आ गए हैं, उन सभी बस अड्डों को शहर से बाहर बनाने का निर्णय लिया है। इस कड़ी में पानीपत, सोनीपत, करनाल, झज्जर के बस अड्डों को शहर से बाहर दूसरे स्थानों पर बनाने का कार्य किया गया है।हरियाणा सरकार ने एक ऐतिहासिक निर्णय लिया है, जिसके तहत प्रदेश के किसी भी कस्बे अथवा गांव की पंचायतें यदि अपने गांव में क्यू शेल्टर बनवाना चाहती हैं तो उन सभी गांवों में सरकार की ओर से जिला परिषद के माध्यम से क्यू शेल्टर बनाए जाएंगे। इस अवसर पर उन्होंने पानीपत जिला परिषद की चेयरपर्सन को मौके पर ही निर्देश दिए कि वे अपने जिले के जिन-जिन गावों में बस क्यू शेल्टर बनवाना चाहती हैं, उसकी सूची सरकार को दें ताकि बस के इंतजार में खड़े किसी भी बुजुर्ग, विकलांग अथवा महिला को असुविधा का सामना न करना पड़े। इसके अलावा सरकार ने लोगों को बेहतर व सुविधाजनक यात्रा उपलब्ध करवाने के लिए रोडवेज के बेड़े में 600 नई बसें शामिल की हैं। उन्होंने कहा कि आज का दिन पानीपत की जनता के लिए ऐतिहासिक दिन है, जब साढ़े छह एकड़ भू-भाग पर नये आधुनिक बस अड्डे की आधारशिला रखी गई है। सिवाह गांव के नवयुवक जहां सेना, अर्धसैनिक बल, पुलिस व अन्य विभागों को अपनी बेहतर सेवाएं दे रहे हैं, वहीं आंदोलन के समय सिवाह गांव की महिलाओं ने शांति बनाए रखने में महत्वपूर्ण योगदान दिया है। इस गांव के लिए हरियाणा सरकार ने अनेक कल्याणकारी योजनाएं लागू की हैं और सांसद अश्वनी चौपड़ा ने भी इस गांव को गोद लेकर गांव के विकास में सहयोग दिया है। सीएम ने कहा कि हरियाणा खिलाड़यों का प्रदेश है। हरियाणा की जनसंख्या भारत की जनसंख्या का मात्र 2 प्रतिशत भले ही हो, लेकिन कॉमनवेल खेलों में जहां भारत ने 66 पदक प्राप्त करके विश्व में तीसरा स्थान प्राप्त किया है, वहीं हरियाणा के खिलाड़ियों विशेषकर महिला खिलाड़ियों ने 22 पदक प्राप्त करके भारत को पदक जीतने में 33 प्रतिशत का योगदान दिया है। उससे भी बड़ी खुशी की बात यह है कि सिवाह गांव की बेटी संतोष कुमारी ने गत वर्ष ऑल इंडिया पुलिस खेलों में गोल्ड मेडल प्राप्त करके पानीपत, हरियाणा और भारत का नाम रोशन किया है। उन्होंने कहा कि 26 अप्रैल को हरियाणा के सभी 22 खिलाड़िय़ों को चंडीगढ़ बुलाकर सम्मानित किया जाएगा। कॉमनवेल्थ गेम्स में पदक प्राप्त करने वाले खिलाड़ियों को डेढ़ करोड़, 75 लाख और 50 लाख रुपये का ईनाम सरकार की ओर से दिया जाएगा तथा वे सोमवार को स्वयं झज्जर जाकर प्रसिद्ध खिलाड़ी मनु को डेढ़ करोड़ का पुरस्कार देकर सम्मानित करेंगे। उन्होंने कहा कि जल को संरक्षण प्रदान करने व स्वच्छता को बढ़ावा देने के लिए हरियाणा तालाब प्राधिकरण का गठन करने का निर्णय सरकार ने लिया है। प्रदेश में 14 हजार तालाब हैं। इन तालाबों को तीन श्रेणियों मेंं बांटा गया है और हर तालाब की जरूरत के अनुसार उसका विकास करवाया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार ने शिक्षा विभाग में नई तबादला नीति लागू करके अध्यापक की इच्छा के अनुसार स्कूलों में लगाया है, जिससे 93 प्रतिशत अध्यापक पूरी तरह से संतुष्ट हैं और उनकी कार्यशैली में भी सुधार आया है। पानीपत एक ऐसा ऐतिहासिक, धार्मिक और औद्योगिक शहर है, जिसे देखने के लिए हजारों देशी-प्रदेशी पर्यटक प्रतिवर्ष यहां आते हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार सभी वर्गों के हितों के लिए समर्पित है। सरकार ने किसान-मजदूरों के कल्याण के लिए भी अनेक योजनाएं लागू की हैं और एसवाईएल नहर का पानी भी हरियाणा के किसानों को जरूर दिलवाया जाएगा। सांसद अश्वनी कुमार चोपड़ा ने कहा कि सिवाह को उन्होंने गत दो वर्ष पहले गोद लिया है और इस गांव के विकास कार्यों को करवाने में भी पूरा सहयोग दिया है। उन्होंनें मुख्यमंत्री को सिवाह के सरपंच खुशदिल द्वारा दिया गया छ: सूत्रीय मांग पत्र मुख्यमंत्री को देते हुए अनुरोध किया कि इसमें अंकित मांगों पर पूर्ण रूप से विचार किया जाए। हिन्दुस्थान समाचार/ कुसुम/पवन
image