Hindusthan Samachar
Banner 2 रविवार, जुलाई 22, 2018 | समय 06:23 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

कोलकाता पुलिस ने मोहम्मद शमी को नोटिस भेज कर तलब किया

By HindusthanSamachar | Publish Date: Apr 17 2018 4:26PM
कोलकाता पुलिस ने मोहम्मद शमी को नोटिस भेज कर तलब किया
कोलकाता, 17 अप्रैल (हि.स.)। पत्नी से मारपीट व जान से मारने की कोशिश के आरोपों में घिरे टीम इंडिया के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी को कोलकाता पुलिस ने नोटिस भेज कर पूछताछ के लिए तलब किया है। शमी के साथ मामले के अन्य आरोपी व शमी के बड़े भाई मोहम्मद हशीम अहमद को भी बुलाया गया है। संयुक्त पुलिस आयुक्त अपराध प्रवीण त्रिपाठी ने मोहम्मद शमी को नोटिस भेजने की पुष्टि की है। उधर शमी पूछताछ में सहयोग के लिए बुधवार को कोलकाता पुलिस मुख्यालय लालबाजार में हाजिर होंगे। इसकी पुष्टि उन्होंने स्वयं की है। शमी ने कहा कि पुलिस जांच में वे सहयोग करेंगे और पुलिस के नोटिस के अनुसार बुधवार दोपहर 2 बजे लालबाजार जाएंगे। ज्ञात हो कि हसीन जहां ने शमी के अलावा उनके बड़े भाई मोहम्मद हशीम अहमद, उनकी पत्नी समां परवीन, बहन सबीना अंजुम और मां अंजुमन आरा बेगम के खिलाफ मानसिक व शारीरिक उत्पीड़न का केस दर्ज कराया है। इनके खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 498ए (दहेज से संबंधित घरेलू हिंसा), 323 (मारपीट), 307 (हत्या की कोशिश), 376 (दुष्कर्म), 506 (जान से मारने की धमकी), 328 (जहर देना) और 34 (आपराधिक साजिश के तहत सामूहिक अत्याचार) के तहत मामले दर्ज किए गए हैं। उल्लेखनीय है कि गत 17 मार्च को कोलकाता पुलिस की टीम अमरोहा स्थित शमी के गांव गई थी और एक सप्ताह वहां रहकर जांच-पड़ताल की थी। इस दौरान शमी के मामा सहित उनके पड़ोसियों व एक नर्सिग होम की नर्स व चिकित्सकों समेत 11 लोगों का बयान रिकार्ड किया गया था। हसीन ने वहां रहने के दौरान जिस अस्पताल में अपनी जांच कराई थी, उसी की नर्स व चिकित्सक से पूछताछ की गई है। शमी के बड़े भाई का भी एक आपराधिक रिकार्ड सामने आया था। उनके खिलाफ दंगा करने व मारपीट का एक केस दर्ज है। हालांकि इस मामले में उन्हें जमानत मिल गई थी। माना जा रहा है कि पूछताछ के दौरान शमी व उनके बड़े भाई का बयान काफी अहम होगा| जांच करने गई पुलिस के पास मौजूद साक्ष्यों से इसे मिलाया जाएगा। यदि बुधवार को मोहम्मद शमी और उनके बड़े भाई लालबाजार पहुंचते हैं तो दोनों से पूछताछ कर उनका बयान रिकार्ड किया जाएगा। जांच में इनका बयान काफी अहम साबित हो सकता है। हिन्दुस्थान समाचार /प्रकाश/मधुप/राधा रमण
image