Hindusthan Samachar
Banner 2 मंगलवार, दिसम्बर 18, 2018 | समय 01:44 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

बुलंदशहर की घटना में अनावश्यक रुप से किसी संगठन का नाम उछालना गलत : विहिप

By HindusthanSamachar | Publish Date: Dec 5 2018 2:11PM
बुलंदशहर की घटना में अनावश्यक रुप से किसी संगठन का नाम उछालना गलत : विहिप

अजीत

नई दिल्ली। विश्व हिन्दू परिषद (विहिप) ने बुलंदशहर में गत तीन दिसंबर को हुई दुर्घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताते गुए इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह और गांव के एक युवक सुमित हत्या पर बुधवार को खेद जताया। इसके साथ ही विहिप ने कहा है कि इस घटना के पीछे अनावश्यक रुप से किसी संगठन का नाम उछालना ठीक नहीं है।

विश्व हिन्दू परिषद के संयुक्त महामंत्री डा सुरेन्द्र जैन ने कहा कि किसी भी लोकतंत्र में हत्या का कोई स्थान नहीं हो सकता लेकिन जिस ढंग से मीडिया के एक वर्ग ने इस दुर्घटना को एक विचारधारा विशेष पर थोपने का प्रयास किया है और तथ्यों को जांचने पर यह पाया गया कि सत्य इनसे कहीं अलग है, उचित नहीं है। विहिप ने इसे षड्यंत्र बताते हुए इसकी घोर निंदा की| डा. जैन ने कहा कि तीन दिसंबर की प्रातः चिंगरावटी गांव के कुछ युवक अपने खेतों के पास से जा रहे थे। वहां पर उन्होंने कुछ लोगों को गाय काटते हुए तथा आसपास में कई स्थानों पर कटी हुई गायों के अवशेषों को देखा तो वे चिंतित हो गए। गांव के लोगों ने धरना दिया तथा कहा कि जब तक उन गायों के हत्यारे नहीं पकड़े जाते वे धरना स्थल से नहीं उठेंगे। धरना स्थल पर बैठे लोग आसपास के गांव के ही थे| किसी संगठन के नहीं थे। उनमें से कुछ लोग जहां समाजवादी पार्टी या कांग्रेस के भी समर्थक थे तो कुछ और पार्टियों के लोग भी थे। अर्थात यह धरना किसी संगठन के द्वारा न होकर उस गांव के ग्रामीणों के द्वारा आयोजित किया गया एक आक्रोश था जो पिछले दिनों के घटनाक्रमों को देखते हुए स्वाभाविक था।

विहिप ने सभी मीडिया वर्गों व समाज के लोगों से अपील की है कि अब कुछ ही घंटे बाकी रह गए हैं, एसआईटी की जांच रिपोर्ट आनेवाली है| उससे पहले किसी व्यक्ति या किसी संगठन का नाम न तो अनावश्यक रूप से उछालें और न ही मीडिया ट्रायल करें। कल कई चैनलों पर बहस के द्वारा यह तथ्य भी सामने आया कि एक ऐसे व्यक्ति को विश्व हिंदू परिषद से जोड़ा जा रहा था जिसका विश्व हिंदू परिषद से कोई संबंध था ही नहीं। 

image