Hindusthan Samachar
Banner 2 शुक्रवार, मार्च 22, 2019 | समय 01:10 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

मुसीबत में फंसे मोहम्मद शमी, चार्जशीट दाखिल

By HindusthanSamachar | Publish Date: Mar 14 2019 7:20PM
मुसीबत में फंसे मोहम्मद शमी, चार्जशीट दाखिल

ओम प्रकाश

कोलकाता, 14 मार्च (हि.स.)। टीम इंडिया के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी की मुश्किलें विश्व कप मैच के पहले बढ़ गई हैं। पत्नी हसीन जहां के खिलाफ चल रहे प्रताड़ना मामले की जांच के बाद कोलकाता पुलिस की वुमन ग्रीवेंस सेल ने गुरुवार को अलीपुर न्यायालय में उनके खिलाफ दहेज उत्पीड़न -498ए और यौन उत्पीड़न- 354 के तहत चार्जशीट दाखिल की है।

गुरुवार को कोलकाता पुलिस के संयुक्त आयुक्त (अपराध) प्रवीण त्रिपाठी ने मामले की पुष्टि की है। पिछले साल हसीन जहां ने सबसे पहले सोशल मीडिया पर कुछ स्क्रीनशॉट शेयर करते हुए मोहम्मद शमी पर कई गंभीर आरोप लगाए थे। शमी की पत्नी ने उनपर मैच फिक्सिंग के भी आरोप लगाए थे, लेकिन बीसीसीआई ने इस मामले में शमी को क्लीनचिट दे दी थी। हांलाकि, इससे पहले हसीन जहां मो. शमी के खिलाफ गुजारा भत्ता मुकदमा हार गई थीं। शमी से उनकी पत्नी ने पारिवारिक गुजारा भत्ते के लिए हर महीने 10 लाख रुपये की मांग की थी, इसमें परिवार के लिए सात लाख और बेटी के लिए तीन लाख रुपये थे। जिसे अलीपुर कोर्ट ने खारिज कर दिया। हालांकि जज नेहा शर्मा ने शमी से उनकी बेटी के लिए पैसे देने को कहा है। शमी को बेटी के लिए 80 हजार रुपये प्रति माह देना होगा।

उल्लेखनीय है कि 12 नवंबर को कोलकाता पुलिस मुख्यालय लालबाजार में मोहम्मद शमी से कोलकाता पुलिस के संयुक्त आयुक्त (अपराध) प्रवीण त्रिपाठी ने दो घंटे से अधिक समय तक पूछताछ की थी। यह पहली चार्जशीट पेश होने से पहले उनसे की गई आखिरी पूछताछ थी। पत्नी द्वारा लगाए गए मानसिक और शारीरिक उत्पीड़न समेत तमाम आरोपों पर पुलिस के पूछे गए सवालों का जवाब शमी ने दिया था। मोहम्मद शमी की पत्नी हसीन जहां ने पति पर पाकिस्तान समेत अन्य देशों की लड़कियों के साथ विवाहेतर संबंध रखने का आरोप लगाया था। साथ ही मैच फिक्सिंग और बीसीसीआई को कई झूठी जानकारियां देने का भी आरोप उन्होंने मढ़ा था। हालांकि जांच के बाद बीसीसीआई ने शमी पर लगे सभी आरोपों को बेबुनियाद बता दिया था।

सात मार्च 2018 को हसीन जहां ने शमी व उनके परिवार के चार सदस्यों के खिलाफ जादवपुर थाने में मामला दर्ज कराया था। इसकी जांच कोलकाता पुलिस की खुफिया टीम ने अपने हाथ में लेकर विमेन ग्रीवेंस सेल को सौंप दिया था। मामले में पहले भी दो बार मोहम्मद शमी से पूछताछ कर चुकी है। उनके और उनके परिवार के सदस्यों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 498ए (दहेज से संबंधित घरेलू हिंसा), 323 (मारपीट), 307 (हत्या की कोशिश), 376 (दुष्कर्म), 506 (जान से मारने की धमकी), 328 (जहर देना) और 34 (आपराधिक साजिश के तहत सामूहिक अत्याचार) के तहत मामले दर्ज किए गए थे। हालांकि इसके बाद शमी ने भी कानूनी रास्ते ही अख्तियार कर लिए थे, जिसके बाद पति-पत्नी के बीच बातचीत से मामला सुलझ नहीं सका था।

इधर, हसीन जहां ने अलीपुर न्यायालय में भरण-पोषण का केस किया था, जिसे न्यायालय ने खारिज कर केवल बेटी की पढ़ाई के लिए खर्च देने का निर्देश शमी को दिया था। अब हसीन जहां मॉडलिंग कर रही हैं।

हिन्दुस्थान‌ समाचार

लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image