Hindusthan Samachar
Banner 2 सोमवार, अक्तूबर 22, 2018 | समय 12:53 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

राहुल को लेकर ट्विटर पर जेटली और सुरजेवाला आए आमने-सामने

By HindusthanSamachar | Publish Date: Jun 14 2018 4:33PM
राहुल को लेकर ट्विटर पर जेटली और सुरजेवाला आए आमने-सामने
नई दिल्ली, 14 जून (हि.स.)। केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली की ओर से राहुल गांधी पर निशाना साधे जाने के बाद कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने पलटवार किया है। सुरजेवाला ने एक बयान जारी कर दावा किया कि ‘बिना विभाग के मंत्री’ जेटली राजनीतिक प्रासंगिकता हासिल करने की कोशिश कर रहे हैं। उल्लेखनीय है कि जेटली ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर आक्षेपों के लिए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की समझ पर सवाल उठाया था और कहा कि यह तो अनुभवों से ही आती है, विरासत में नहीं मिलती। इसके बाद से दोनों नेताओं में आरोप- प्रत्यारोप शुरू हो गए हैं। सुरजेवाला के इस बयान के बाद जेटली ने ट्वीट कर कहा, ‘रणदीप सुरजेवाला, यह राजनीतिक विमर्श है। अशोभनीय बातें करना जवाब देना नहीं है। तथ्यों के साथ जवाब दीजिए।’ इस पर कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता ने कहा, ‘जेटली जी, जब आप तथ्यों को तोड़-मरोड़कर कांग्रेस नेतृत्व, यहां तक कि उच्चतम न्यायालय और कई अन्य लोगों के बारे में भला-बुरा कहते हैं तो वह राजनीतिक विमर्श होता है, लेकिन जब आपको ठोस तथ्यों के साथ ‘सच का आईना’ दिखाया जाता है तो आप असहज हो जाते हैं और इसे ‘अशोभनीय बात’ करार देते हैं।’’ जेटली ने एक अन्य ट्वीट में कहा, ‘रणदीप सुरजेवाला: अगर आर्थिक कुप्रबंधन होता तो कमजोर अर्थव्यवस्था वाले 5 देशों (फरगाइल फाइव) और नीतिगत पंगुता से दुनिया की सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था का सफर संभव नहीं हो सकता था। यह जानकारी नहीं होने का एक और मामला है।’ इस पर सुरजेवाला ने कहा, ‘जेटली जी, मोदी सरकार में पिछले 4 साल में विकास दर सबसे निचले स्तर पर है। निर्यात गिर गया है, दो करोड़ों नौकरियों का वादा जुमला निकला, एनपीए 10 लाख करोड़ रुपए पहुंच गया है, निवेश गिर गया है, बैंकों की हालत खराब हो चुकी है और ‘लूट घोटाले’ आम बात हो गई है, जीएसटी गलत ढंग से लागू की गई, योजनाएं विफल हो रही हैं। क्या यह सब आर्थिक कुप्रबंधन नहीं है?’ हिन्दुस्थान समाचार /रवीन्द्र मिश्र/दधिबल
image