Hindusthan Samachar
Banner 2 रविवार, जुलाई 22, 2018 | समय 09:54 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

भाजपा ने किसानों का स्वाभिमान बढ़ाया : मोदी

By HindusthanSamachar | Publish Date: Jul 11 2018 3:49PM
भाजपा ने किसानों का स्वाभिमान बढ़ाया : मोदी

मलोट, 11 जुलाई (हि.स.)। पंजाब में सत्ता परिवर्तन के बाद पहली बार रैली को संबोधित करने पहुंचे पीएम मोदी मलोट की मंडी में भीड़ देखकर खासे उत्साहित नजर आए। मोदी ने अपने भाषण में कई बार पंजाबी भाषा का इस्तेमाल करके पंडाल में मौजूद किसानों के साथ सीधा संवाद करने का प्रयास किया। जिससे किसान खासे उत्साहित नजर आए।

पीएम मोदी ने पंजाबी में अपना भाषण शुरू करते हुए जहां किसानों के समक्ष वाहेगुरू जी का खालसा, वाहेगुरू जी की फतेह का नारा लगाया वहीं रैली में जुटी भीड़ को देखकर मोदी ने जब ठेठ पंजाबी में कहा कि अज्ज तां लगदा इत्थे किसानां दा कुंभ लगया। यह सुनते ही किसानों ने खड़े होकर मोदी का स्वागत किया।

मोदी ने कहा कि मैं अज्ज मलोट की जमीन ते आया जेहड़ी कपाह लई मशहूर है। उन्होंने किसानों का उत्साहवर्धन करते हुए कहा कि जब तक वह बैठे हैं तब तक नरमे (कपास) को नर्म नहीं पड़ने देंगे। उन्होंने पंजाबी खान की तारीफ करते हुए कहा कि मक्की दी रोटी ते सरसों का दा साग, जिसदी पूरा विश्व करदा है डिमांड और अब एनडीए ने मक्के की फसल के दाम बढ़ाकर भी यहां के किसानों को सम्मान देने का काम किया है। मोदी ने अपने भाषण के अंत में फिर से किसानों का पंजाबी भाषा में आभार व्यक्त करते हुए जो बोले सो निहाल के नारे के साथ किया।

अन्नदाता हैं देश की आत्मा

पीएम मोदी ने कहा कि एक तरफ भारतीय जनता पार्टी ने किसानों को उनके उत्पाद की लागत पर 50 प्रतिशत अधिक समर्थन मूल्य तय करके उनका स्वाभिमान बढ़ाने का काम किया है, वहीं कांग्रेस ने हमेशा किसानों को गुमराह करके उनका राजनीतिक इस्तेमाल किया है। मोदी बुधवार को मुक्तसर साहिब के अंतर्गत आते मलोट में अकाली दल व भारतीय जनता पार्टी द्वारा आयोजित किसान कल्याण रैली में पंजाब, हरियाणा व राजस्थान से आए हुए किसानों को संबोधित कर रहे थे।

उन्होंने किसानों को अन्नदाता व देश की आत्मा करार देते हुए कहा कि पूर्व की सरकारों की अनदेखी के चलते किसान न केवल कृषि से मुंह मोड़ने लगे थे बल्कि वह खुद के धंधे को छिपाने भी लगे थे लेकिन एनडीए सरकार ने किसानों को गर्व से जीवन व्यतीत करने के लिए प्रेरित किया है। उन्होंने कहा कि पंजाब ने केंद्रीय पूल में हमेशा ही सर्वाधिक योगदान दिया है और केंद्र सरकार द्वारा एमएसपी घोषित किए जाने के बाद पंजाब फसल उत्पाद के क्षेत्र में नया रिकार्ड बनाने की तरफ अग्रसर होगा।

दुनिया में पंजाबियों का डंका

मोदी ने पंजाबियों को मेहनतकश करार देते हुए कहा कि आज पंजाबियों ने समूचे विश्व में अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया है। पंजाब के किसानों ने विपरीत परिस्थितियों में भी बेहतर परिणाम देकर देश को नई दिशा प्रदान की है। किसानों के मुद्दे पर कांग्रेस पार्टी को आड़े हाथों लेते हुए मोदी ने कहा कि कांग्रेस ने कई दशकों तक न केवल एमएसपी की फाइलों को एक साजिश के तहत अटकाए रखा बल्कि किसानों के कल्याण हेतु की गई घोषणाओं से भी केवल एक ही परिवार को लाभ पहुंचाया। एमएसपी घोषित होने के बाद किसान तो चैन की नींद सो रहे हैं लेकिन कांग्रेसियों की नींद हराम हो गई है।

मोदी ने किसानों को ई-मंडियों के साथ जुडक़र अपना उत्पाद बेचने की अपील करते हुए कहा कि पंजाब हरित क्रांति का वाहक रहा है और अब एनडीए सरकार की योजनाओं के बल पर पंजाब ब्लू क्रांति (मछली पालन) तथा श्वेत क्रांति (दूध उत्पादन) का भी वाहक बनेगा। मोदी ने कहा कि आने वाले समय में देश के किसानों को आर्थिक व सामाजिक रूप से मजबूत करने के लिए केंद्र सरकार द्वारा कई अहम फैसले लिए जाएंगे।

40 मिनट के भाषण में पेश किया रिपोर्ट र्काड :

पीएम मोदी ने मलोट की रैली में करीब 40 मिनट तक धारा प्रवाह भाषण दिया। दिलचस्प बात यह रही कि इस भाषण के दौरान मोदी ने कांग्रेस को कम निशाने पर लिया और अपनी सरकार का चार वर्ष का रिपोर्ट कार्ड पेश करते हुए किसान कल्याण योजनाओं का पूरा ब्यौरा जनता के सामने रखा। मोदी ने मलोट के मंच से यह भी बताने का काम किया कि जब पंजाब व केंद्र में एनडीए की सरकार थी तब यहां कि कितने किसानों को उसका लाभ मिला और अब कितने किसानों को केंद्र की योजनाओं से लाभ मिल रहा है।

हिन्दुस्थान समाचार/संजीव

image