Hindusthan Samachar
Banner 2 मंगलवार, दिसम्बर 18, 2018 | समय 01:03 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

अयोध्या में अभेद्य सुरक्षा, सीमाओं पर बैरियर, पूछताछ के बाद ही इंट्री

By HindusthanSamachar | Publish Date: Dec 6 2018 10:01AM
अयोध्या में अभेद्य सुरक्षा, सीमाओं पर बैरियर, पूछताछ के बाद ही  इंट्री

पवन पाण्डेय

अयोध्या। जिले की सभी सीमाओं पर अयोध्या आने वाले रास्तों पर बैरियर लगा दिया गया है। अयोध्या जिले से सटी सुल्तानपुर सीमा, अंबेडकर नगर सीमा, बस्ती सीमा व गोंडा सीमा पर बैरियर लगाकर पूछताछ व सघन चेकिंग के बाद ही 5 दिसम्बर की रात से वाहनों को अयोध्या आने के लिए छोड़ा जा रहा है। अयोध्या के रौनाही टोल प्लाजा पर सुरक्षा बल लगाये गए हैं। वहां भी सघन चेकिंग की बाद ही वाहन छोड़े जा रहे|

प्रशासन द्वारा दोनों समुदायों के स्थानों पर नजर रखी जा रही है। कई हिंदू संगठनों द्वारा किए गए आयोजनों के ऐलान को लेकर प्रशासन ने सख्ती बढ़ा दी है। विवादित ढांचा ढहाए जाने की बरसी 6 दिसम्बर को लेकर रामनगरी को अभेद्य सुरक्षा घेरे में कैद कर दिया गया है। मजिस्ट्रेटों की तैनाती कर सुरक्षा की कमान आरएएफ व पीएसी के हवाले कर दी गई है। अयोध्या में विवादित ढांचा ढहाए जाने की तिथि 6 दिसम्बर को बाबरी एक्शन कमेटी के यौमेगम और विहिप के विजय दिवस सहित अन्य संगठनों द्वारा कार्यक्रम करने के ऐलान को लेकर जिलेभर में अलर्ट घेाषित कर दिया गया है।

सुरक्षा के लिहाज से 6 कंपनी पीएसी दो कंपनी आरएफ, 4 एडिशनल एसपी, 10 डिप्टी एसपी, 10 इंस्पेक्टर, 150 सब इंस्पेक्टर , 500 सिपाही सहित डॉग स्कवायड, बम स्कवायड व खुफिया विभाग की टीमें लगाई गई हैं। शांति एवं सुरक्षा व्यवस्था के साथ खिलवाड़ करने वालों के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी। प्रशासन ने स्पष्ट किया है कि दर्शन-पूजन पर कोई रोक नहीं है, लेकिन सुरक्षा व शांति से खिलवाड़ बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। गुरुवार की सुबह से ही टेढ़ी बाजार चौराहा और नयाघाट पर डायवर्जन लागू कर चार पहिया वाहनों को दूसरे रास्तों से भेजा जा रहा है। प्रशासन हर पल मुस्तैद है। अयोध्या में मुस्लिम समुदाय के लोगों ने काला दिवस मनाते हुए अपनी दुकान, प्रतिष्ठान को बंद रखा है। हिंदू समाज के लोग अपनी दुकान खोल रहे हैं| सायंकाल सभी दुकानों के बाहर दीपक जला कर शौर्य दिवस मनाएंगे। आज होनेवाले रस्मी आयोजनों को लेकर प्रशासन सतर्क है।

कई हिंदू संगठनों द्वारा किए गए आयोजनों के ऐलान को लेकर प्रशासन ने सख्ती बढ़ा दी है। वैसे भी शिवसेना के आशीर्वाद समारोह व विहिप की धर्मसभा के बाद से ही अयोध्या में माहौल गरम है| राम जन्मभूमि की सुरक्षा के लिए व्यापक इंतजाम किए गए हैं। अयोध्या में शांति व सुरक्षा के मद्देनजर प्रमुख स्थलों के साथ ही भीड़-भाड़ वाले स्थानों पर मजिस्ट्रेटों को तैनाती कर खास नजर रखने को कहा गया है। महानगर की जुड़वा नगरी के साथ-साथ अयोध्या जिले के देहात क्षेत्रों में भी सतर्कता बढ़ा दी गई है। गुरुवार को हिन्दुस्थान समाचार से बातचीत में जिलाधिकारी डाॅ अनिल कुमार ने प्रशासन की तरफ से स्पष्ट किया है कि राम जन्मभूमि सहित सभी स्थानों पर दर्शन -पूजन पर कोई रोक नहीं है, लेकिन सुरक्षा व शांति से खिलवाड़ बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

एसपी सिटी अनिल सिंह सिसोदिया ने बताया कि 6 दिसम्बर के मद्देनजर आज गुुरुवार को रामनगरी की सुरक्षा अभेद्य रहेेगी।मुख्यालय से भारी मात्रा में पुलिस बल मिला है। जिले में पहले से ही धारा 144 लागू है। जोन व सेक्टर में बांटकर सुरक्षा की कमान मजिस्ट्रेटों के हवाले कर दी गई है। आज भी राउंड द क्लाक चेकिंग अभियान चलाया जा रहा है। सुरक्षा प्रबंध कड़े कर दिए गए हैं। 

image