Hindusthan Samachar
Banner 2 बुधवार, अक्तूबर 17, 2018 | समय 01:02 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

हार्दिक पटेल ने घर पर ही शुरू किया आमरण अनशन

By HindusthanSamachar | Publish Date: Aug 25 2018 6:42PM
हार्दिक पटेल ने घर पर ही शुरू किया आमरण अनशन

अहमदाबाद, 25 अगस्त (हि.स)। गुजरात के पाटीदार नेता हार्दिक पटेल ने पटेलों को आरक्षण और किसानों का कर्ज माफ करने की मांग को लेकर शनिवार से आमरण अनशन शुरू कर दिया। वहीं हार्दिक के अनशन पर बैठने की घोषणा के बाद शुक्रवार रात से ही गुजरात हाई अलर्ट पर है। हार्दिक पटेल ने पाटीदार आरक्षण आंदोलन समिति को अहमदाबाद और गांधीनगर में अनशन की अनुमति मांगी थी, जो नहीं दी गई। इसके बाद उन्होंने शनिवार को अहमदाबाद में अपने घर पर ही आमरण अनशन शुरू कर दिया है।

हार्दिक पटेल ने पहली बार 2015 में पाटीदार समाज के लिए जब आकिया था तो उसके कहने के मुताबिक़ लगभग 25 लाख पाटीदारों ने साथ दिया था। शनिवार को जब वह दोबारा आमरण अनशन पर बैठे तो कांग्रेस के चार विधायक समेत करीब 100 लोग जमा हुए हैं। अहमदाबाद में प्रवेश कर रहे कई पाटीदारों की कई स्थानों पर रोका भी गया है। हार्दिक के समर्थन में जा रहे पाटीदारों और आसपास के कार्यकर्ताओं को पुलिस रोक रही है। उन्हें हिरासत में ले रही है। महेसाणा में सुरेश ठाकरे और सतीश पटेल को हिरासत में लिया गया है। बनासकांठा में 15 पाटीदार युवाओं को हिरासत में लिया गया है। पंचमहाल के पास संयोजक नीरज पटेल को कालोल से पकड़ा गया है। सूरत के निलेश कुम्भानी को भी गिरफ्तार किया गया है। सूरत में जहां पाटीदार विस्तार है, वहां पुलिस छावनी बना दी गई है। इसके बावजूद कांग्रेस के ललित वसोया, ललित कागथारा और किरीट पटेल हार्दिक के घर उनका समर्थन करने पहुंच चुके हैं।

बता दें कि पुलिस ने हार्दिक पटेल को आमरण अनशन करने हेतु किसी भी जगह की मंजूरी नहीं दी है। इसके बावजूद हार्दिक उपवास करने पर अड़े हुए हैं। शनिवार की दोपहर करीब तीन बजे उन्हेांने उपवास शुरू कर दिया। हार्दिक को सपोर्ट करने पूरे गुजरात से लोग उसके ग्रीनवुड रिसोर्ट में आने लगे हैं। पुलिस भी एकदम मुश्तैद है। पूरे राज्य में धारा 144 लगा दी गयी है। समग्र राज्य में शान्ति और सलामती बनाए रखने के लिए पुलिस सतर्क है। शहर में पाटीदार प्रभावित इलाकों में सरकार द्वारा एसआरपी और पुलिस की टुकड़ियां तैनात की गयी हैं। हार्दिक की टीम ने उपवास के लिए 13 दिवसीय कार्यक्रम की घोषणा की है। उनके समर्थन में किस क्षेत्र का पाटीदार समर्थन करेगा, उसका भी उल्लेख किया गया है। साथ ही मध्य प्रदेश, राजस्थान, बिहार, महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश और हरियाणा के किसान और सांसद भी 28 अगस्त को पहुंच रहे हैं।

हिन्दुस्थान समाचार/हर्ष

image