Hindusthan Samachar
Banner 2 शुक्रवार, जनवरी 18, 2019 | समय 21:11 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

इन्फोसिस को 2503 करोड़ का शुद्ध घाटा, दिसंबर तिमाही में 3501 करोड़ का शुद्ध मुनाफा

By HindusthanSamachar | Publish Date: Jan 11 2019 6:17PM
इन्फोसिस को 2503 करोड़ का शुद्ध घाटा, दिसंबर तिमाही में 3501 करोड़ का शुद्ध मुनाफा

राधेश्याम 

मुम्बई, 11 जनवरी (हि.स.)। इस सप्ताह कंपनियों की ओर से तिमाही नतीजों की घोषणा की जा रही है। आईटी सेक्टर की कंपनी इन्फोसिस ने भी तिमाही नतीजे घोषित करते हुए 3,501 करोड़ रुपये के शुद्ध मुनाफा होने की बात कही है। इन्फोसिस लिमिटेड ने बाजार नियामक को सूचित करते हुए 31 दिसंबर, 2018 को समाप्त तिमाही के वित्तीय परिणाम की जानकारी दी। पिछले साल की तुलना में कंपनी की नेट इन्कम प्रॉफिट में 2503 करोड़ रुपये का घाटा हुआ है।

आईटी की दिग्गज कंपनी इन्फोसिस की ओऱ से बताया गया कि 31 दिसंबर को समाप्त तीसरी तिमाही में कंपनी का शुद्ध मुनाफा आश्चर्यजनक रूप से घटा है। इस तिमाही में कंपनी को केवल 3,501 करोड़ रुपये का ही नेट प्रॉफिट हुआ है। पिछले साल की समान तिमाही में कंपनी ने 6,004 करोड़ रुपये का शुद्ध मुनाफा अर्जित किया था। हालांकि इस तिमाही में कंपनी की बिक्री तथा परिचालन से प्राप्त कुल आय में इजाफा हुआ है। कंपनी ने बिक्री व परिचालन से 19,575 करोड़ रुपये का राजस्व हासिल किया है, जबकि पिछले साल की समान तिमाही में इस मद के तहत कंपनी को 17,442 करोड़ रुपये प्राप्त हुए थे।

कंपनी ने तिमाही का समेकित वित्तीय परिणाम की भी जानकारी दी। कंपनी ने बताया कि 31 दिसंबर, 2018 को समाप्त तिमाही के समेकित वित्तीय परिणामों के अनुसार इस तिमाही में समूह का समेकित शुद्ध मुनाफा पिछले साल की तुलना में घटकर 3,610 करोड़ रुपये रह गया है। पिछले साल कंपनी ने 5,129 करोड़ रुपये का शुद्ध मुनाफा हासिल किया था। इसी तरह, समूह की बिक्री तथा परिचालन से प्राप्त कुल आय बढ़कर 22,153 करोड़ रुपये हो गया है। पिछले साल की समान तिमाही में कंपनी को बिक्री व परिचालन से 18,756 करोड़ रुपये का समेकित राजस्व हासिल हुआ है। कंपनी ने बोर्ड मीटिंग के दौरान कैपिटल अलोकेशन पॉलिसी के तहत पूर्ण भुगतान आधार पर इक्विटी शेयरों को बॉयबैक करने के प्रस्ताव को मंजूर कर लिया है। इसके तहत कंपनी 5 रुपये की मूल कीमत के आधार पर शेयरधारकों से 14.54 फीसदी पेड अप शेयरों को बॉयबैक करेगी। कंपनी के पास 31 दिसंबर 2018 तक कुल 8260 करोड़ रुपए का कैश रिजर्व उपलब्ध है।

हालांकि यह रकम टोटल पेड अप शेयर कैपिटल की तुलना में 15 फीसदी कम है। कंपनी ने बयान में कहा है कि बॉयबैक स्कीम के तहत कंपनी प्रति इक्विटी शेयरों को 800 रुपये की कीमत पर ओपन मार्केट से खरीदने की इच्छुक है। कंपनी के पास प्रमोटर्स औऱ प्रमोटर्स ग्रुप की संख्या 22 है। इनके पास कुल 560,182,338 शेयर्स हैं। यह कंपनी की शेयरधारिता का 12.82 फीसदी है। इसके अलावा भारतीय संस्थागत निवेशकों की संखअया 6 है, जिनके पास कुल 3,188,505 शेयर्स (0.07 फीसदी) हैं। कंपनी के पास फिलहाल 38 म्यूचुअल फंडों के तहत कुल 556,480,424 शेयर्स उपलब्ध हैं। यह कुल शेयरधारिता का 12.74 फीसदी है। इसके अलावा 24 बैंकों के पास 3,133,524 शेयर्स या 0.07 फीसदी की शेयरधारिता है। कंपनी में 1180 फॉरेन संस्थागत निवेशकों के पास 1,503,560,804 शेयर्स (34.42 फीसदी) है। कंपनी के पास कुल 941,090 शेयरहोल्डरों के पास कुल 4,368,647,898 शेयर्स हैं। हिन्दुस्थान समाचार

image