Hindusthan Samachar
Banner 2 मंगलवार, अगस्त 21, 2018 | समय 06:22 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

आरबीआई ने रद्द किए 17 गैर बैंकिंग कंपनियों के कारोबारी प्रमाण-पत्र

By HindusthanSamachar | Publish Date: Aug 9 2018 4:39PM
आरबीआई ने रद्द किए 17 गैर बैंकिंग कंपनियों के कारोबारी प्रमाण-पत्र

नई दिल्ली, 09 अगस्त (हि.स.)। रिजर्व बैंक अॉफ इंडिया ने 17 गैर बैंकिंग वित्तीय कंपनियों के सर्टिफिकेट (प्रमाण-पत्र) को रद्द कर दिया है। हालांकि आरबीआई ने इनके कारोबारी प्रमाण-पत्र (सर्टिफिकेट) के रद्द करने का कारण नहीं बताया है। जब इस बाबत आरबीआई के कम्यूनिकेशन डिपार्टमेंट से बात की गई तो उन्होंने कहा कि आरबीआई एक्ट 1934 के तहत इनके सर्टिफिकेट को रद्द किया गया है।

उल्लेखनीय है कि आरबीआई की ओर से जारी प्रेस विज्ञप्ति में दी गई धारा-45 1ए मौजूद ही नहीं है। इस बीच आरबीआई के कम्यूनिकेशन विभाग में कार्यरत अधिकारी अजीत प्रसाद ने भी इसका गोलमोल जबाव ही दिया। इन कंपनियों के नाम क्रमशः पीएस इंटरप्राइजेज, अनुराधा इंवेस्टमेंट लिमिटेड, सप्थगिरी फाइनेंस एंड लीजिंग प्राइवेट लिमिटेड,डीके व्यापार विनियोग प्राइवेट लिमिटेड, पेरिवल इंडस्ट्रियल कॉरपोरेशन लिमिटेड, संघश्री इंवेस्टमेंट एंड ट्रेडिंग कंपनी लिमिटेड, अंकुर मरकेंटाइल प्राइवेट लिमिटेड, माखन शाह लोबाना फाइनेंस प्राइवेट लिमिटेड, सदगुण कामर्सियल लिमिटेड, अभिमन्यू फिंवेस्ट प्राइवेट लिमिटेड, स्टीवार्ट इंवेस्टमेंट एंड फाइनेंसियल प्राइवेट लिमिटेड (पुरान नाम स्टीवार्ट इंवेस्टमेंट एंड फाइनेंसियल कंसल्टेंड प्राइवेट लिमिटेड, नामोकर मार्केटिंग लिमिटेड, जूट इंवेस्टमेंट कंपनी लिमिटेड, अमूर्त फाइनेंस प्राइवेट लिमिटेड, त्रिनेत्र कैपिटल सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड, ईटा इंवेस्टमेंट प्राइवेट लिमिटेड व विजय मोटर फाइनेंस प्राइवेट लिमिटेड हैं। आरबीआई के मुताबिक अब ये कंपनियां किसी भी तरह का कारोबार नहीं कर सकती।

हिन्दुस्थान समाचार/प्रमोद

image