Hindusthan Samachar
Banner 2 शुक्रवार, दिसम्बर 14, 2018 | समय 14:59 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

पीड़ित उम्मीदवारों ने एपीपीएससी से पुनर परीक्षा करने की मांग की

By HindusthanSamachar | Publish Date: Sep 3 2018 4:56PM
पीड़ित उम्मीदवारों ने एपीपीएससी से पुनर परीक्षा करने की मांग की

इटानागर, 03 सितम्बर (हि.स.)। अरुणाचल प्रदेश में हाल ही में प्रदेश लोक सेवा आयोग (एपीपीएससी) की परीक्षा में गड़बड़ होने का दावा करते हुए उम्मीदवारों ने पुनः परीक्षा आयोजित कराने की मांग की है । वहीं राजीव गांधी विश्वविद्यालय के प्रोफेसर ओटेम पदुंग ने उम्मीदवारों की मांग का समर्थन करते हुए कहा कि इस बार कमिशन ने परीक्षा कराने में काफी गलतियां की है। उन्होंने कहा कि गलतियां हर साल हो रही है। पिछले साल भी गलती के कारण एपीपीएससी का पुनर्गठन किया गया था। तो, एपीपीएससी फिर से ऐसा कराने में संकोच क्यों कर रहा है? प्रो पदंग ने मीडिया से बातचीत करते हुए पीड़ित एपीपीएससी उम्मीदवारों का समर्थन करते हुए कहा कि हमारे पास सभी प्रमाणिक सबूत है।

खासकर वाणिज्य और अन्य सामाजिक विज्ञान के संबंध में जिन विषयों में भारी विसंगतियां मिलीं। उन्होंने कहा कि पीड़ित छात्रों ने गौहाटी उच्च न्यायालय के इटानगर खंडपीठ में विसंगतियों के संबंध में याचिका दायर की है और बताया कि अंतिम सुनवाई 5 सितम्बर को होगी। वाणिज्य विषय के उम्मीदवार कुलसेसो पुल ने कहा कि परीक्षा 29 जुलाई को आयोजित की गई थी और अगले दिन उन्होंने एपीपीएससी के सचिव से संपर्क किया, जिसमें 64 प्रश्न पूछे गए थे जो पाठ्यक्रम से बाहर के थे। पुल ने कहा कि सचिव ने आश्वासन दिया था कि इस मामले को देखने के लिए एक विशेषज्ञ समिति का गठन किया जाएगा। सचिव ने आउट ऑफ़ सिलेबस सवालों के लिए क्षतिपूर्ति अंक प्रदान करने का आश्वासन दिया, लेकिन 2 अगस्त को परिणाम घोषित किए गए, जहां 1030 वाणिज्य उम्मीदवारों में से केवल तीन ही प्रमुखों के लिए योग्य थे।

हिन्दुस्थान समाचार/ तागू

image