Hindusthan Samachar
Banner 2 शनिवार, अगस्त 18, 2018 | समय 07:45 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

निसी जनजाति ने मनाया निसी दिवस

By HindusthanSamachar | Publish Date: Apr 20 2018 10:24AM
निसी जनजाति ने मनाया निसी दिवस
अरुणाचल प्रदेश/इटानगर, 20 अप्रैल (हि.स.)। अरुणाचल प्रदेश की सबसे बड़ी जनजाति निसी समुदाय ने गुरुवार को अपना 11वां निसी दिवस धूमधाम के साथ मनाया। ये दिवस राज्य के उन सभी जिलों में मनाया गया जहां पर निसी समुदाय के लोग निवास करते हैं। दस साल पहले इस समुदाय ने भारतीय संविधान में डफला से निसी में अपने समुदाय का नाम बदलवाया था। इसी के मद्देनजर प्रत्येक वर्ष इस दिन को निसी दिवस मनाया जाता है। इटानर के जोलांग में समाज के लोगों को संबोधित करते हुए निसी एलीट समाज (एनईएस) के अध्यक्ष बेंगिया टोलम ने कहा कि राज्य के सबसे बड़े समुदाय होने के नाते निसी समुदाय को राज्य के समस्त विकास में लोगों का नेतृत्व करना चाहिए। टोलम ने कहा कि 'निसी को शांति, समृद्धि समुदाय और राज्य के सामूहिक विकास के लिए एकजुट होने की जरूरत है।' उन्होंने अपने साथी समुदाय के सदस्यों से समाज की सेवा करने, सम्मान और शांति के साथ जीने की अपील करते हुए कहा कि यदि कोई अपने पड़ोसी लोगों के लिए अच्छा नहीं कर सकता है, तो उन्हें कोई नुकसान भी न पहुंचाए। शहरी विकास मंत्री नाबाम रेबिया ने अपने संबोधन में एकता बनाए रखने के लिए प्रत्येक व्यक्ति को कबीला आधारित संगठनों के निर्माण को हतोत्साहित करने की अपील की। उन्होंने यह भी कहा कि समाज के अनेक लोगों ने संविधान से अपमानजनक शब्द डफला को हटाने और इसे निसी शब्द के साथ बदलने की दिशा में महत्वपूर्ण योगदान दिया, हमें उनके योगदानों को याद रखना होगा। इस पर प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष ताकाम संजय ने कहा कि डफला शब्द बाहर के लोगों ने हमें दिया था और आज इस शब्द को सुधारने में समाज सफल हुआ है। यह समाज के लिए बड़ी उपलब्धि है। हिन्दुस्थान समाचार/तागू/अरविंद/सौभाग्या/राधा रमण
image